फारस की खाड़ी के उपर से गुजरने वाले विमानो को खतरा,ईरान व अमेरिका में बढा तनाव

0
47

जयपुर।अमेरिका और ईरान के बीच कूटनीतिक और सैन्य तनाव गहराता जा रहा है। अमेरिकी राजनयिकों ने शनिवार को चेतावनी देकर बताया कि फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले वाणिज्यिक विमानों को खतरे का सामना करना पड़ सकता है। फेडरल एविएशन एडिमिमिस्ट्रेशन द्वारा जारी चेतावनी में कहा गया कि खाड़ी से उड़ान भरने वाले विमान गलत पहचान का शिकार हो सकते हैं।

कुवैत और संयुक्त अरब अमीरात में तैनात अमेरिकी राजनयिको ने कहा कि फारस की खाड़ी और ओमान की खडी से गुजरने वाले सभी वाणिज्यिक उड़ानो को सैन्य गतिविधियो और राजनीतिक तनाव के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है।इस चेतावनी में इन विमानो के नेविगेशन तंत्र और संचार में खलल पडने की आशंका व्यक्त की गई है।

हाल ही में ‘लॉयड आॅफ लंदन’ने भी समुंद्री जहाज के लिए इस क्षेत्र में खतरें के प्रति अगाह किया गया है।कुछ दिनो पहले अमेरिका ने ईरान से संभावित हमले की जवाबी कार्यवाही के लिए क्षेत्र में बमवर्षक और युद्धपोत की तैनाती की थी।

इसके बाद दोनों देशों में खींचतान और बढ़ गई थी। इसी बीच अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि संयुक्त अरब के तट पर तेल के चार टैंकरों को निशाना बनाया गया और ईरान की ओर झुकाव वाले विद्रोहियो ने महत्वपूर्ण सउदी अरब तेंल पाइप लाइन पर ड्रोन हमले की जिम्मेदारी ली है।सउदी अरब ने इस ड्रोन हमले के लिए सीधे तौर पर ईरान को जिम्मेदार ठहराया था।

ट्रंप के निर्णय के बाद अमेरिका ने ईरान पर सख्त प्रतिबंध लगा दिया था,इसके बाद ईरान ने परमाणु शर्तो से हटते हुए यूरोप को 60 दिनो के अंदर नई शर्ते बनाने की बात कही वरना यूरेनियम को हथियार स्तर पर उन्नत करने की धमकी दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here