मंदी के माहौल में कर रहा है बेहतर ये वाहन निर्माता

0
48

जयपुर। मंदी के इस दौर में काफी हद तक हर वाहन निर्माता को काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है। मगर कुछ अपनी वाहन निर्माता अपनी गिरती स्तिथी को संभालने में भी मंदी का सहार ले रहे है। ऐसे वाहन निर्माता जो पहले ही घाटे में चल रहे थे अब मंदी के दौर में अपनी आंकडे सुधारने में कामयाब हो गये है।

स्कोडा मॉडल की वैश्विक मांग में वृद्धि जारी है। अगस्त में, चेक ब्रांड ने ग्राहकों को 91,800 वाहन दिए, जो पिछले वर्ष के से 6.6% (अगस्त 2017: 86,100 वाहन) से अधिक थे। स्कोडा ने रूस (+ 33.5%) और चीन (+ 11.5%) में विशेष रूप से उच्च विकास दर हासिल की। पिछले वर्ष की इसी अवधि (+ 6.0%) की तुलना में एक बार फिर कंपनी यूरोप में भी काफी अच्छी स्तिथी में है।

आपको बता दें ग्रोथ को स्कोडा मॉडल्स की उच्च संख्या के आधार पर संचालित किया गया था, जो कि बड़े पैमाने पर आधुनिक FABIA और CITIGO थे। KODIAQ RS, मॉडल वेरिएंट KAROQ SCOUT और KAROQ SPORTLINE के साथ-साथ VISION RS कॉन्सेप्ट स्टडी पेरिस में अपने वर्ल्ड प्रीमियर मना रहे हैं। भारत में, कार निर्माता ने अगस्त (अगस्त 2017: 1700 वाहन, -15.0%) में 1500 वाहन वितरित किए। विदेशों में डिलीवरी 24.2% बढ़कर 2000 यूनिट (अगस्त 2017: 1600 वाहन) हो गई।

गौरतलब आंकडों के आधार पर इतना तो कहा जा सकता है कि स्कोडा की स्तिथी विदेशों में पहले से बेहतर हो रही है मगर भारत में अभी भी वाहन निर्माता को नुकसान का सामना करना पड रहा है। ऐसे में वाहन निर्माता का भारत में भविष्य संकट में नजर आ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here