रिटायर्ड व्यक्ति ने बनाया यह अनोखा बंकर, परमाणु हमले को भी झेल सकता है

0
62

आम तौर पर रिटायर होते ही इंसान को बुजुर्ग मान लिया जाता है। और उसके पास करने को कुछ भी नहीं होता है। लेकिन इस धारणा को गलत साबित किया है 83 साल की उम्र के एक व्यक्ति ब्रूस बीच ने। दरअसल इस व्यक्ति ने ऐसा शानदार भूमिगत बंकर बनाया है, जो किसी भी परमाणु हमले को झेलने की क्षमता रखता है। ब्रूस का नाम आज पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हो चुका है। उम्र के इस पड़ाव में पहुंचने के बाद अधिकांश लोग खुद को नाकारा और बोझ समझने लग जाते हैं। जबकि ब्रूस ने ऐसे लोगों के लिए एक मिसाल पेश की है।

रिपोर्ट के अनुसार यह व्यक्ति अब कोई साधारण शख्सियत नहीं है, बल्कि आज ब्रूस का नाम उत्तर अमेरिका में सबसे बड़े निजी परमाणु बंकर के मालिक के तौर पर जाना जाता है। 83 साल के ब्रूस बीच ने अपने घर के पिछवाड़े में मिट्टी के नीचे एक ऐसा मजबूत बंकर तैयार किया है, जो किसी भी एटम बम हमले से निपटने में सक्षम है। इस सुरक्षित बंकर का नाम आर्क टू है। ब्रूस ने 42 स्कूल बसों की मदद से यह फौलादी बंकर तैयार किया है।

 

इस बंकर को बनाने के लिये ब्रूस ने 42 बसों की खरीददारी की थी। इसके लिए ब्रूस को लगभग 8.5 लाख रुपए खर्च करने पड़े। बसें खरीदने के बाद 10,000 स्क्वायर फीट चौड़ी सुरंग में इन 42 बसों को एक के बाद एक करके इस तरह से जोड़ा गया है कि ये एक बसों की लंबी सुरंग बन गई।

1980 में इन बसों को सुरंग में गाड़ने का काम शुरू किया गया था। इस कार्य में करीब 2 साल का समय लगा था। हालांकि इस बंकर को पूरी तरह से बनाने में ब्रूस ने अपनी सारी ज़िंदगी लगा दी।

 

ब्रूस बीच नामक इस जुनूनी शख्स ने अपनी पत्नी जीन के साथ के मिलकर यह अनोखा बंकर तैयार किया है। इस सुरंग में सभी आधुनिक सुविधाएं मौजूद हैं। आराम करने के लिये यहां पर 350 बेड लगे हुए हैं। इसके अलावा बंकर में रसोईघर है। मनोरंजन के लिए विभिन्न तरह के गेम्स भी मौजूद हैं। यह बंकर पर्यटकों के लिये एक अजूबा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here