असम की यह जगह जो बन चुकी है पक्षियों की आत्महत्या की वजह

0

जयपुर। गर्मियों के मौसम में हर कोई घूमने के लिए जाता है। इसके लिए हर कोई ऐसी जगह का प्लान करता है। जहां आप शांति, सुकून और ठंडक के लिए जाना जाता है। इसके लिए हर कोई किसी न किसी हिल स्टेशन पर घूमने के लिए जाना जाता है। देखा जाता है कि ज्यादातर लोग शिमला, मनाली, लद्दाख व दार्जिलिंग जैसी जगहों पर जाना पसंद करते है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसी घाटी के बारे में जहां हर कोई जाना जाता है। यह घाटी असम राज्य में स्थित है। यह तो सभी को मालूम है कि असम पूर्वोत्तर राज्यों के खूबसूरत राज्यों में से एक है। इस जगह पर जाने के बाद आपक मन यहां से आने का नही करेगा। ऐसे में अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है। पर यह जगह किसी रहस्य से कम नही है। जिसके बारे में जानकर हर कोई हैरान रह जाता है। आइए जाने इस जगह के बारे में…

आपको बता दें कि यह जगह किसी रहस्य से कम नही है। यहां पर जाने पर आपको एक अलग ही नजारा देखने को मिलता है। यहां जाकर आपको कई तरह के पक्षी नजर आते है। पर इस जगह की रहस्यमयी बात यह है कि यहां आकर सभी पक्षी मर जाते है।

असम में स्थित यह वैली जटिंगा वैली के नाम से जानी जाती है। यहां पर जाकर 7 से 10 के बीच में ज्यादा से ज्यादा पक्षी नजर आते है। जिससे बाद देखा गया कि 40 से भी ज्यादा पक्षियों ने आत्महत्या कर दी है।

इसके अलावा इस जगह पर पर्यटकों का जाना मना है। आप यहां पर आसानी से पक्षियों को यहां पर पड़ा हुआ देख सकते हो। देखा जाता है कि मानसून के मौसम में यहां पर सबसे ज्यादा पक्षी मर जाते है। इस वजह से लोग यहां पर रात मेंं घर से बाहरजाने पर डरते है।

पक्षी शाम के समय में ज्यादा से ज्यादा मरते है। खासतौर शाम के समय में यहां पर यहां ज्यादा हादसे होते है। अभी तक पक्षियों के सामूहिक आत्महत्या की वजह का लोगों को अभी तक रहस्य बना चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here