ये है भारत का सबसे ‘बदनाम’ गांव, यहां के हर इंसान को शक की नजरों से देखा जाता है। सच्चाई जानकर आप भी करोगे शक

0
55

जयपुर, भारत में ऐसे कई जगह मौजूद है जो अपनी विशेष पहचना के लिए जाने जाते है। वैसे ही कुछ ऐसी जगह भी है जो अपने आप में बदनामी की वजह से प्रसिद्ध है। यह गांव पूरे देश में बदनाम है। आज आपको कुछ ऐसे ही गांवों के बारे में बताने जा रहे है. आइए जानते है इस  गांव के बारे में…इपाचोरा – यह गाव मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र की सीमा पर सतपुडा पहाडियों के बीच बसा हुआ है। इस गांव की आबादी करीब 900 के आस पास है।

इस गांव को भारत का सबसे बदनाम गांव माना जाता है। यहां एक विशेष समुदाय रहता है जिसे सिकलीगर कहा जाता है। इस गाव में करीब 150 सिकलीगर परिवार मौजूद है, यह गांव देश में हथियार बनाने के लिए कुख्यात हैं। इस गांव को लेकर भारत सरकार ने साल 2003 में घोषणा की थी कि इन्हें कोई अन्य रोजगार दिया जाएगा। जिसके चलते इन लोगों ने सरकार की शर्त मानकर आत्मसमर्पण कर दिया था। औऱ हथियार बनाना बंद कर दिया था।

पर सरकार ने इस गांव से वादाखिलाफी कर ली है. हालाकिं अब यहा पर 10 प्रतिशत लोग ही हथियार बनाते है बाकि लोग खेती करके अपना पेट पालते है। बता दें कि मशहूर पत्रकार गौरी लंकेश के हत्याकांड में इस्तेमाल हुई पिस्टल इसी गांव में बनी थी। इस गांव में चोरी छिपे कई हथियार बनाए जाते है जिनसे पता नहीं कीतने लोगों की जान जाती होगी। इस गांव की अगर बदनामी की बात की जाए तो यहां पर शरीफ इंसान भी बदमाश ही लगता है।Related image

पुलिस इस गांव के हर लोगों को हमेशा शक की नजरों से देखती है। हालांकि कुछ बुद्धिजीवी लोग भी यहां रहते हैं जो लगातार हालात सुधारने का काम कर रहे हैं। इन लोगों का कहना है कि पेट पालने के लिए इस गलत काम का सहारा लेना पड़ रहा है क्योकि सरकार की ओऱ से हमारे लिए कोई इंतजाम नहीं किए गए है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here