हृदय के इलाज के लिए ये है आसान तरीका

0
59

जयपुर। मेडिकल में हर रोज कई अविष्कार होते है। जो इंसानों के लिए बहुत ही उपयोगी है। नये नये अविष्कार से और तकनीक से हर बिमारी का इलाज किया जाता है। इसी तरह से हाल ही में शोधकर्ताओं ने इंकजेट प्रिंटिंग में सफलतापूर्वक काम किया है। यह चिकित्सा ​​में बड़े बदलावों के लिए आगे बढ़ सकता है। इस शोध में बड़ी संख्या में इलेक्ट्रोड शामिल हैं,

जैसे न्यूरॉन्स या मांसपेशी कोशिकाओं में गतिविधि से उत्पन्न वोल्टेज का परिवर्तन का पता लगाना। वैज्ञानीकों ने ये शोध एक  गमी भालू पर किया है इसमें ऐसी संपत्ति होती है जो जीवित कोशिकाओं में माइक्रोइलेक्ट्रोड सरणी का उपयोग करते समय महत्वपूर्ण होती है क्योंकी वे नरम होते हैं। और जब वे जीवित कोशिकाओं के संपर्क में आते हैं तो इससे कई नुकसान होते हैं।

प्रयोगशाला में, उनकी कठोरता कोशिकाओं के आकार और संगठन को प्रभावित करती है जैसे की शरीर के अंदर सूजन या अंग को उसकी गति के नुकसान को ट्रिगर करती है। इससे रोगियों के इलाज के तरीकों को भी बदल सकते हैं। शोधकर्ता प्रोफेसर वुल्फ्रम कहते हैं की भविष्य में, शरीर के अंदर तंत्रिका या हृदय कार्यों की निगरानी के लिए समान नरम संरचनाओं का उपयोग किया जा सकता है। जिससे इलाज करना आसान हो जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here