डेंगू की बीमारी से दिलाएगा निजात यह आयुर्वेदिक नुस्खा

बारिश के मौसम से लेकर नवंबर तक की हल्की सर्दी तक बीमारियों का कहर जारी रहता है । इस मौसम में सबसे ज्यादा मलेरिया , चिकब्न गुनिया और डेंगू का कहर सबसे ज्यादा होता है ।

0
59
A branch of Azadirachta indica, neem tree showing compound leaves

 

जयपुर । बारिश के मौसम से लेकर नवंबर तक की हल्की सर्दी तक बीमारियों का कहर जारी रहता है । इस मौसम में सबसे ज्यादा मलेरिया , चिकब्न गुनिया और डेंगू का कहर सबसे ज्यादा होता है । कई देशों में यह बीमारी बहुत ही ज्यादा फैली है ।

भारत में भी यह बीमारी बहुत ज्यादा पैर पसार चुकी है । ऐसे में हम लोग इस बीमारी से निजात पाने के लिए हम एलोपेथिक दवाओं का सहारा लेते हैं पर फिर भी हमको इतनी जल्दी आराम नहीं आता । ऐसे में आज हम आपको इस बीमारी से जल्द से जल्द राहत पाने का तरीका बताने जा रहे हैं आइये जानते हैं इस बारे में ।

नीम की पत्तियां भले ही कड़वी हों लेकिन इनमें इतने औषधीय गुण होते हैं कि जो कई तरह के रोगों के इलाज में काम आती है। नीम के अर्क में डायबीटीज, बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने के गुण पाए जाते हैं। नीम के तने, जड़, छाल और कच्चे फलों में शक्ति-वर्धक और मियादी रोगों से लड़ने का गुण भी पाया जाता है। इतना ही नहीं, डेंगू से लड़ने में कारगर हो सकता है, नीम का जूस।

डेंगू के मरीजों की सबसे बड़ी समस्या ये होती है कि उनके खून में मौजूद प्लेटलेट्स की संख्या घट जाती है जो जानलेवा साबित हो सकता है। नीम की पत्तियों में मौजूद औषधीय गुणों की वजह से न सिर्फ खून का प्लेटलेट काउंट बेहतर होता है बल्कि बीमारियों से लड़ने में मदद करने वाले वाइट ब्लड सेल्स भी बेहतर होते हैं, जिससे डेंगू से लड़ने में मदद मिलती है।

मुट्ठी भर नीम की ताजी पत्तियों को अच्छे से धोकर 1 कप पानी के साथ ब्लेंडर में डालकर पीस लें। जब पत्तियां पूरी तरह से पीस जाएं तो इस जूस को मलमल के कपड़े से छान लें। नीम जूस तैयार है। आप पीने में कड़वा लग रहा हो तो आप इसमें थोड़ा सा शहद डालकर भी पी सकते हैं। आप चाहें तो नीम का काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं। इसके लिए नीम की पत्तियों को 1 गिलास पानी के साथ उबालें और जब पानी आधा रह जाए तो उसे छानकर पी लें। नीम में मौजूद ऐंटी-वायरल गुण इम्यूनिटी बढ़ाएगा और डेंगू के बुखार से निजात दिलाएगा।then take your Ayurvedic medicines

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here