93 साल के इस शख्स को मिली 2 साल की सजा,की थी 5 हजार से ज्यादा लोगों की हत्या

0
The 93-year-old German Bruno D. arrives for his trial at the court room in Hamburg, Germany, October 21, 2019, accused of being an SS guard and involved in killings between August 1944 and April 1945, helping to murder thousands of prisoners, many of them Jewish, in the Stutthof Nazi concentration camp near Gdansk, Poland. Daniel Bockwoldt/Pool via REUTERS REFILE - CORRECTING DATE

जयपुर, कहते है कि भगवान के घर देर है अंधेर नहीं। आज हम आपको एक ऐसा ही मामला बताने जा रहे है जिसके बारे में जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये मामला जर्मन से सामने आय़ा है। यहां पर एक 93 साल के शख्स को दो साल की सजा सुनाई गई है।ब्रूनो डे को 5 के लिए दोषी ठहराया गया ... क्योंकि उस पर हजारों नाजियों की हत्या करने पर दोषी पाया गया है। शख्स का नाम ब्रूनों डे बताया जा रहा है। जो 75 साल पहले 1944 से 1945 के दौरान स्टथऑफ कंसेनट्रेशन केंप में गार्ड का काम करता था। हैम्बर्ग राज्य की एक अदालत ने ब्रूनो डे को कम से कम 5,232 लोगों की हत्या में सहायता करने और अपहरण करने का दोषी पाया है, 5000 से ज्यादा लोगों को मौत के घाट ...माना जाता है कि इन सभी लोगों की जान अगस्त 1944 से अप्रैल 1945 तक पोलैंड के डैंस्क के पूर्व में स्थित स्टथऑफ कंसेनट्रेशन कैंप में गई है। जिसके बाद छोटे कोर्ट में डे को पेश किया गया।हैम्बर्ग राज्य की एक अदालत ने ब्रूनो डे को कम से कम 5,232 लोगों की हत्या में सहायता करने और अपहरण करने का दोषी पाया है। क्योकि वो उस समय सिर्फ 17 साल के ही थे। जब कोर्ट ने आरोपी को दो साल की सजा सुनाई। बताया जा रहा है कि हैम्बर्ग राज्य की अदालत में शख्स एक व्हीलचेयर पर बैठे थे।  जज ऐनी मियर-गोयरिंग ने अपना फैसले पढ़ते हुए ब्रूनो डे को कहा,”आप अभी भी अपने आप को एक मात्र पर्यवेक्षक के रूप में देखते हैं, जबकि वास्तव में आप इस मानव निर्मित नरक के लिए एक साथी थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here