गुर्जरों के मान जाने के बाद अब पीएम मोदी की जयपुर रैली से पहले सिर-दर्द बनीं ये दोनों जातियां

अलग अलग समुदायों के लोग पीएम की रैली में धरना प्रदर्शन करने की धमकी देने लगे हैं।

0
405

जयपुर। महिला दिवस के अवसर पर इसी साल प्रधानमंत्री ने राजस्थान के झुनझुनु में कार्यक्रम किया था। इस कार्यक्रम में वसुंधरा राजे की सरकार से असंतुष्ट लोगों ने सभा में पीएम मोदी के सामने ही विरोध प्रदर्शन और हंगामा शुरु कर दिया था।

इसी वजह से आगामी 7 जुलाई को पीएम मोदी की राजस्थान की राजधानी जयपुर में होने वाली रैली को लेकर राज्य सरकार और प्रशासन बड़ी तैयारियों में लगा हुआ है। हाल ही में गुर्जर समुदाय ने अपनी मांगों के पूरा ना होने पर सरकार के रैली में विरोध प्रदर्शन करने की धमकी दी थी। लेकिन बाद में राज्य सरकार ने गुर्जरों को 1 प्रतिशत आरक्षण देने की अधिसूचना जारी करके उनको मना लिया था।

लेकिन अब अलग अलग समुदायों के लोग पीएम की रैली में धरना प्रदर्शन करने की धमकी देने लगे हैं। राजस्थान जाट संघर्ष समिति के नेम सिंह फौजदार ने ऐलान किया है कि जब तक राज्य में जाटों के आरक्षण पर मुहर लगाने की मांग की है और ये मांग ना मानने की स्थिति में विरोध प्रदर्शन करने की बात भी कही है।

इसके साथ ही वसुंधरा राजे सरकार से नाराज़ चल रहे राजपूत समुदाय ने भी पीएम की रैली में प्रदर्शन करने की बात कही है। राजपूत समुदाय की मांग है चतुर सिंह कांड और आनंदपाल एनकाउंटर की जांच ठीक ढंग से पुलिस से कराई जाए, नहीं तो वो रैली में प्रदर्शन करेंगे।

इन धमकियों के बाद राज्य सरकार ने पुलिस को रैली के दौरान मुश्तैदी के सात नज़र रखने के आदेश दे दिये हैं और ऐसी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को भी कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here