बॉलीवुड इंडस्ट्री में ऊंची प्रसिद्दी की काबिलियत रखते है ये सितारें,मिलना चाहिए सपोर्टिंग किरदार से बड़ा दर्जा

0

बॉलीवुड के गलियारो में आज हम बात कर रहे है उन सितारो के बारे में जो कि अपनी काबिलियत के अनुसार एक ऊंची प्रसिद्दी का दर्जा रखते है हालांकि बिना गॉडफादर तो वही अपने आपको ऊंचे स्तर से प्रमोट ना कर पाने के कारण कही ना कही ये उम्दा कलाकार सिनेमाघरो में सिर्फ सपोर्टिंग किरदारो से ही नवाजे जा रहे है जबकि फिल्मों में इनकी परफॉर्मेंस को हीरो-हीरोइन से ज्यादा रेटिंग दी जाती है।इसके बावजूद ये कलाकार लीड रोल करने से चूक रहे है तो आइए बात करते है इन सितारो के बारे जिन्हें स्क्रीन पर काफी पसंद किया जाता है और सही मायनो में उनकी जगह फिल्मों के मुख्य किरदारो में होने के लायक है।

सुरवीन चावलाः हेट स्टोरी 2 और सेक्रेड गेम्स में आकर एक्ट्रेस सुरवीन चावला ने अपनी कलाकारी से  हर किसी को धूल चटा दी।आज वो फिल्मों के साथ ही डिजीटल प्लेटफॉर्म पर भी चर्चित और हिट है जिनकी एक्टिंग की हर कोई तारीफें करता है।

विक्रांत मैसीः हाल ही में फिल्म छपाक में नजर आए विक्रांत के किरदार और उनके अभिनय की हर किसी ने तारीफें की है।खैर इससे पहले भी टीवी और बॉलीवुड में डेब्यू के बाद विक्रांत की तारीफें होती रही है लेकिन उन्हें फिल्मों में लीड कैरेक्टर देने से दर्शक घबराते ही रहे है।

राधिका आप्टेः इस लिस्ट में शामिल हुए राधिका आप्टे ने ना सिर्फ बॉलीवुड बल्कि तमिल,तेलगु,बंगाली फिल्मो में भी अपने आपको बखुबी साबित किया है।टैलेंट की दुकान राधिका आप्टे ने हर तरह की फिल्मो से अपना नाम किया है वो इन दिनो डिजीटल प्लेटफॉर्म की क्वीन है इतनी पॉपुलेरिटी के बाद राधिका को किसी फिल्म में लीड रोल ना मिलना काफी दर्दभरा है।

पंकज त्रिपाठीः बॉलीवुड की फिल्मों में सपोर्टिंग कैरेक्टर से फिल्म की जान बने पंकज त्रिपाठी को आज दर्शक हर एक फिल्म मे देखना चाहते है चाहे वो कॉमेडी किरदार हो या फिर विलेन का अपने आपको हर किसी हिस्से में साबित करने वाले पंकज ने इंडस्ट्री में वो मुकाम हासिल किया है जो वाकई में इतिहास के पन्नो पर शामिल है।

अली फजलः बॉलीवुड की फिल्म फुकरे से भले ही अली फजल की चर्चा कम रही हो लेकिन सच ये है उन्होनें अपने टैलेंट के चलते इंटरनेशनल तौर पर अपने आपको साबित किया है जो कि आज की दुनिया में आसान नहीं है।अली फजल को बॉलीवुड में कभी लीड एक्टर के तौर पर पेश नहीं किया गया है लेकिन उन्होनें अपने करियर को हमेशा रिस्क में रखकर सफलता हासिल की है।

जिम्मी शेरगिलः बी-ग्रेड फिल्मों के शाहरुख खान के रुप में चर्चित जिम्मी शेरगिल वो एक्टर है जिन्होनें सालभर मे अपनी सबसे ज्यादा फिल्में दी है। साहिब, बीवी और गैंगस्टर में अपने आपको साबित करने के बाद जिम्मी ने फिल्म इंडस्टी में रुख ही मोड़ दिया है।उन्होनें हर एक फिल्म में हीरो के साथ वो किरदार पेश किया है जो वाकई में कमाल है और जिसे दर्शको को याद रखना ही होता है।

स्वरा भास्करः रांझणा,वीरे दी वेडिंग जैसी फिल्मों में अपने किरदार से चर्चा बटौरने वाली स्वरा भास्कर भले ही सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग एक्ट्रेस बन चुकी है लेकिन इस बीच उनके अभिनय की तारीफ ना करें तो गलती होगी।इन फिल्मो में जिस तरह से उन्होनें अपने आपको संवारा है वो वाकई में गजब है ऐसे में स्वरा को सिंगल फिल्म में होना उनकी कलाकारी को साबित करने जैसा ही होगा।

आशुतोष  राणाः सिनेमाघरो में फिल्म दुश्मन तो हमने देखी ही है इस फिल्म में यदि आशुतोष राणा नहीं होते तो फिल्म का भविष्य लटका होता हम आपको बता दें कि आशुतोष ने इंडस्ट्री में खलनायक के तौर पर अपनी जो शान बनाई है वो वाकई में गजब है जो कि इंडस्ट्री में आज विलेन का किरदार निभा रहे सितारो को फेल करती है।

मोहम्मद जीशान अयूबः फिल्म रांझणा, तनु वेड्स मनु हो या फिर अनुराग कश्यप की गैग्स ऑफ वासेपुर अपने किरदार से हर किसी को हिला देने वाले जीशान को भले ही किसी सिंगल फिल्म में नहीं लिया जाता रहा है लेकिन वो एक उम्दा कलाकार होने के नाते दर्जनो भर अभिनेताओ से अपनी एक अलग पहचान बनाकर चलते है।

ऋचा चड्डाः मशहूर अनुराग कश्यप की गैंग्स ऑफ वासेपुर हो या फिर दिबाकर बनर्जी की ओए लकी लकी ओए हर किसी में अपने किरदार का लोहा मनवाने वाली ऋचा आज उन हस्तियो में से है जो कि अपने किरदार के साथ पूरा न्याय करके ही दम लेती है।ऋचा ने अपने किरदार का हर किसी को दीवाना बनाया है फिल्म फुकरे में जहां इतने मेल सितारो से फिल्म में कुछ दम नहीं दिखा तो वही भोली पंजाबन बनकर ऋचा ने फिल्म में चार चांद लगा दिये है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here