जब हिंदी सिनेमा में गूंजा इन बहादुर राजनेताओं का बोलाबाल,हर किसी की बायोपिक ने मचाया धमाल

0

बॉलीवुड के गलियारो में आज हम बात कर रहे है उन फिल्मों के बारे में जो कि राजनेताओं की जिंदगी पर आधारित है।जी हां इन फिल्मों को भारत के नेताओं की जिंदगी पर बनाया गया है तो वही उनके देश के लिए किये गये अच्छे कामों को भी यहां दिखाया गया है।तो आइए बात करते है इन फिल्मों के बारे मेः

पीएम मोदी- बॉलीवुड की ये फिल्म भारत के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी की बायोपिक है जिसे संदीप सिंह ने डायरेक्ट की है फिल्म में विवेक ऑबरोय ने मुख्य किरदार निभाया है वही फिल्म हिट साबित हुई लेकिन इसके बावजूद फिल्म उम्मीदो पर खरी उतरने में नाकामियाब रही।

ठाकरेः अभिजीत पांसे द्वारा निर्देशित ठाकरे  दिवंगत शिवसेना संस्थापक, बाल ठाकरे के जीवन पर 2019 की बायोपिक है। हालांकि फिल्म को लेकर काफी चर्चा थी लेकिन फिल्म उम्मीदो पर नहीं खरी उतर पाई।फिल्म को ठाकरे की 93 वीं जयंती पर ही रिलीज किया गया था।जिसमें नवाजुद्दीन सिद्दकी ने ठाकरे की भूमिका निभाई थी।

द एक्सीडेंटल ऑफ प्राइम मिनिस्टरः पिछले साल ही रिलीज हुई इस फिल्म को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की जीवनी पर बनाया गया था।फिल्म संजय बारु की किताब द एस्सीडेंटल ऑफ प्राइम मिनिस्टर पर आधारित है।वही फिल्म को विजय रत्नाकर गुट्टे ने डायरेक्ट की है जिसमें अनुपम खेर ने मनमोहन सिंह का किरदार प्ले किया है।

एनटीआर कथानायकुडुः पिछले साल ही तेलगु में रिलीज हुई ‘एन.टी.आर.: कथानायकुडु’फिल्म को कृष ने डायरेक्ट किया था।ये फिल्म अभिनेता, निर्देशक और पूर्व मुख्यमंत्री नंदामुरी तारक रामा राव के जीवन पर आधारित है। फिल्म में नंदामुरी बालकृष्ण और विद्या बालन को महत्वपूर्ण भूमिकाओं में दिखाया गया है।फिल्म को काफी पसंद किया गया था।

सरदारः भारत के महानतम स्वतंत्रता सेनानियों में से एक सरदार वल्लभभाई पटेल की 1993 की जीवनी पर आधारित नाटकर सरदार के बारे मे किसने नहीं सुना होगा। फिल्म में परेश रावल को पटेल के रूप में दिखाया गया था वही आपको बता दें कि इस फिल्म में सरदार पटेल के राजनीतिक करियर का लेखा-जोखा था क्योंकि भारत ने धीरे-धीरे अपनी स्वतंत्रता का मार्ग खोज लिया।नाटक को काफी पसंद किया गया था।

यात्राः माही वी। राघव के निर्देशन में बनी ‘यात्रा’ 2019 की तेलुगु जीवनी पर आधारित फिल्म है जो आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाई एस राजशेखर रेड्डी के जीवन पर आधारित है। इस फिल्म में मुख्य भूमिका में मैमोट्टी हैं और 2004 से 2009 तक सीएम के रूप में रेड्डी के जीवन को बखुबी दर्शाती है।इस फिल्म का मुख्य उद्देश्य 900 मील की पैदल यात्रा थी जिसे रेड्डी ने अपने चुनाव अभियान के हिस्से के रूप में लिया था।

बाघिनी: बंगाल टाइग्रेसः नेहाल दत्ता की ‘बागिनी: बंगाल टाइग्रेस’ 2019 में रिलीज की गई थी।ये फिल्म पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की यात्रा को दिखाती है।फिल्म को लेकर काफी आलोचना हुई थी।

एन इनसिग्निफिकेंट मैनः खुशबू रांका और विनय शुक्ला के निर्देशक में तैयार हुई इस फिल्म में दिल्ली की सपा पार्टी के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की जीवनी को दिखाया गया था।यह एक प्रकार की डॉक्यमेंट्री है जिसमें उनके सामाजिक-राजनीतिक कार्यो को दिखाया गया था। इस फिल्म में केजरीवाल, मनीष सिसोदिया, योगेंद्र यादव और संतोष कोली ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here