इस होली ज़रूर जाएँ इन जगहों पर,भारत में सबसे बेहतरीन होली मनाई जाती है यहाँ

0
80

जयपुर| होली का त्यौहार भारत के सबसे प्रिय और प्रचलित त्योहारों में से एक है| होली का त्यौहार अपने साथ अनेकों खूबसूरत रंग और खुशियां लेकर आता है जिसे सभी भारतीय साथ मिलजुलकर मानते हैं| अब होली के इस रंग बिरंगे त्यौहार को बस कुछ ही दिन शेष हैं और सभी लोग त्यौहार को मानाने की तैयारी में लग गए हैं| अगर आप अपनी होली को और भी यादगार बनाना चाहते हैं तो अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ होली मानाने के लिए इन जगहों पर ज़रूर जाएँ जहाँ भारत की सबसे बेहतरीन होली खेली जाती है|

1-मथुरा और वृन्दावन: मथुरा और वृन्दावन भगवान श्री कृष्णा के शहर माने जाते हैं| मथुरा में श्री कृष्णा ने जन्म लिया था और उनका बचपन वृन्दावन में बीता था| पूर्वजों के मुताबिक होली की शुरुआत कृष्ण और राधा की रासलीला से हुई थी और यही कारण है कि मथुरा और वृन्दावन में होली खूब ज़ोर शोर के साथ मनाई जाती है| यहाँ पर होली खेलने की सबसे अच्छी जगह श्री कृष्णा का मंदिर है जिसे द्वारकाधीश के नाम से जाना जाता है|  द्वारकाधीश का द्वार होली के एक हफ्ते पहले ही खोल दिया जाता है जहाँ लोग अपनी इच्छानुसार पहुंच कर होली खेल सकते हैं| मथुरा और वृन्दावन के लोगों में होली खेलने का इतना उत्साह होता है की यहाँ के लोग पूरे एक हफ्ते तक होली मानते हैं और यहाँ की ये बेहतरीन होली पूरी दुनिया के टूरिस्ट को भी आकर्षित करती है|

2-बरसाने की होली: बरसाना शहर उत्तर प्रदेश में स्थित है जो भगवान कृष्ण और राधा के लिए जाना जाता है| ये शहर अपनी एक अलग तरह की होली जिसे लट्ठ मार होली कहते हैं, के लिए प्रचलित है| यहाँ होली के पहले दिन नंदगाव की महिलाएं बरसाने जाकर पुरुषों के साथ होली खेलती हैं जिसमे वो पुरुषों को लट्ठ से मारती हैं और पुरुष अपना बचाव करते हैं इसी परंपरा के कारण इस होली को लट्ठ मार होली कहते हैं|  यहाँ होली दो दिन तक मनाई जाती है जिसके दूसरे दिन लोग बरसाने से नंदगाव जाकर होली खेलते हैं|

3- हम्पी की होली: हम्पी कर्नाटक राज्य का एक बहुत ही सुन्दर स्थान है| इस स्थान को यूनेस्को ने विश्व धरोहर घोषित कर रखा है क्योंकि हम्पी के इतिहास  का वैभव आज भी पूरे विश्व  के  पर्यटकों को आकर्षित करता है| यहाँ पर होली का त्यौहार दो दिन तक मनाया जाता है| होली के इन दो दिनों में यहाँ के लोग हम्पी की ऐतिहासिक गलियों में ढोल नगाड़ों की थाप के साथ नाचते गाते और गुलाल उड़ाते पूरी ख़ुशी के साथ त्यौहार का आनद लेते हैं|

4- जयपुर और उदयपुर: जयपुर और उदयपुर में होली यहाँ के सबसे बड़े त्योहारों में शामिल है| यहाँ होली का त्यौहार दो दिन तक मनाया जाता है जिसमे पहले दिन होलिका दहन किया जाता है| होली का दूसरा दिन यहाँ काफी  आकर्षक होता है क्योंकि यहां होली रंगों और नाच गानों के साथ सडकों पर दिखाई देती है जिसमे ख़ूबसूरती से सजे धजे घोड़े व हथियाँ भी दिखाई देते हैं| होली के दूसरे दिन यहाँ हाथियों और घोड़ों को सजा धजा कर सड़कों पर निकाला जाता है और सांस्कृतिक कार्यक्रमों, हाथियों के टग ऑफ वॉर और अनेकों कार्यक्रमों के साथ इस त्योंहार मनाया को जाता है|

5- गोवा: गोवा में होली का त्यौहार शिगमोत्सव के नाम से 15 दिनों तक मनाया जाता है| इस त्यौहार की शुरुआत गोवा के लोग देवी देवताओ की पूजा के साथ करते हैं| यहां पर शिगमोत्सव अनेकों सांस्कृतिक कार्यक्रमों और परेड के साथ मनाया जाता है और इसके पांचवें दिन रंग बिरंगे गुलालों के साथ होली खेली जाती है| गोवा में त्यौहार मनाने का यह तरीका काफी प्रचलित है और दुनिया भर के टूरिस्ट के लिए आकर्षण का केंद्र भी है|

6- मुंबई: मुंबई में सभी प्रकार के त्यौहार बड़े ही धूम धाम और जोश के साथ मनाये जाते हैं| होली का त्यौहार भी इन्ही त्योहारों में से एक है| यहाँ मट्ठे के घड़े फोड़ने की प्रतियोगिता के साथ होली मनाई जाती है और कई जगहों पर स्पेशल होली पार्टी का आयोजन किया जाता है जिसमे बॉलीवुड के भी कई सितारे बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं और होली के त्यौहार को सभी के साथ मिलजुलकर मनाते हैं|

होली का ये रंगीन त्यौहार अपने आपमें ही इतना खुशनुमा त्यौहार है जिसका सभी भारतीय पूरे साल बेसब्री के साथ इंतज़ार करते हैं| होली के इस त्यौहार में कई तोहफों के साथ खाने के भी अनेकों स्वादिष्ट पकवान बनाये जाते हैं जैसे गुझिया,पापड़, मठरियां और बहुत सी स्वादिष्ट मिठाइयां भी| इन सभी पकवानो को बनाने की शुरुआत महिलाएं लगभग एक महीने पहले से ही कर देती हैं| तो अगर आप इस होली अपने परिवारों और दोस्तों से दूर हैं फिर भी त्यौहार का भरपूर मज़ा उठाना चाहते हैं तो होली के इन मशहूर स्थानों पर जाकर परिवारजनों और दोस्तों की कमी को कुछ वक़्त के लिए ज़रूर पूरा कर सकते हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here