जम्मू कश्मीर के नागरिकों की आवाज़ सुनी जानी चाहिए: मनमोहन सिंह

0
67

जयपुर। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद पहली प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व प्रधान मंत्री और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने सोमवार को कहा कि अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने का फैसला देश के अधिकतर लोगों को अभिलाषा के अनुसार नहीं हैं.

इसके अलावा मनमोहन सिंह ने कहा कि अगर भारत के विचार को जीवंत रखना है तो जम्मू-कश्मीर के नागरिकों की आवाज सुनी जानी चाहिए मनमोहन सिंह ने कहा कि भारत गहरे संकट से गुजर रहा है इसलिए समान विचार वाले लोगों को एकजुट होने की जरूरत है.

इसके अलावा मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि देश की अधिकांश जनता की अभिलाषा का ध्यान से नहीं रखा गया महत्वपूर्ण यह है कि सभी लोगों की आवाज सुनी जानी चाहिए हम केवल अपनी आवाज उठाकर सुनिश्चित कर सकते हैं कि दूरगामी भारत का विचार जीवित रहे.

इसके अलावा को बता दे कि सिन्हा ने रेड्डी के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि वे ऐसे कठिन समय में हमें छोड़ कर गए हैं जब बुरी ताकतें भारत के विचार को तबाह कर रही थी इसके अलावा उन्होंने कहा कि रेड्डी आशावादी थे और एक अच्छे इंसान थे मक्का महासचिव सीताराम येचुरी और भाकपा के महासचिव डी राजा समेत कई नेता और पूर्व नौकरशाहों ने रेड्डी को श्रद्धांजलि दी, आपको बता दें कि रेड्डी का जुलाई में हैदराबाद में निधन हो गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here