टिकटोक पर वीडियो बना रहा था युवक, चल गई गोली और हो गई मौत

0
19

जयपुर। अभी हाल ही में महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। इस मामले को लेकर मिली जानकारी के अनुसार यहां पर एक टिक टॉक वीडियो बनाने के दौरान दुर्घटनावश चली गोली से एक किशोर की मौत हो गई है। इस मामले को लेकर मिली खबरों के मुताबिक़ पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी और पुलिस ने बताया कि प्रतीक वाडेकर की मौत शिरडी में बुधवार की शाम में घटनास्थल पर ही हो गई। इस मामले में बताया गया है कि 17 वर्षीय प्रतीक और उनके संबंधी 20 वर्षीय सन्नी पवार, 27 वर्षीय नितिन वाडेकर और 11 वर्षीय एक लड़का और एक अन्य व्यक्ति अपने परिवार के एक व्यक्ति के अंतिम संस्कार से जुड़े अनुष्ठान के लिए मंदिरों के शहर शिरडी आए में थे।

वहीं इस मामले को लेकर सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहां पर होटल में उन सभी ने बंदूक लेकर एक वीडियो बनाने और उसे वीडियो शेयरिंग एप्प टिक टॉक पर पोस्ट करने का फैसला किया और यह पिस्तौल प्रतीक के एक संबंधी लेकर आए थे। वहीं शिरडी पुलिस थाने के निरीक्षक अनिल काटके ने बताया कि दुर्घटनावश पिस्तौल का ट्रिगर दब गया और गोली वाडेकर को जा लगी और पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाडेकर को गोली लगने के बाद अन्य सभी कमरे से फरार हो गए और जब गोली की आवाज सुनकर होटल कर्मचारी आया और उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनमें से एक ने गोली चलाने की धमकी दी और फरार हो गया।

इस मामले को लेकर जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाडेकर को सरकारी अस्पताल में ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया और काटके ने बताया कि इस संबंध में भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज करके सन्नी और नितिन को गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीं इस मामले को लेकर मिली खबरों के मुताबिक़ अन्य संबंधी का अभी पता नहीं चला है जबकि चौथा आरोपी नाबालिग है और सन्नी और नितिन ने पुलिस को बताया कि वीडियो शूट के दौरान कथित तौर पर गोली चल गई। वहीं मामले की जांच की जा रही है और जल्द जांच में सब पता कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here