विलुप्त हो चुके विशालकाय जीवों इस तरह से दोबारा किए जा सकता है पैदा

0
135

जयपुर। विज्ञान ने बहुत सी तरक्की कर ली है कि अब कुछ भी नामुमकिन नहीं हो सकता है। वैज्ञानिकों ने ऐसा तकनीक विकसित कर ली है जिसकी मदद से विलुप्त हो चुके जीवों को आनुवांशिक क्लोनिंग के द्वारा फिर से विकसित किया जा सकता है इसका मतलब है कि विलुप्त हो चुके कई जीवों को दुबारा से जीवीत किया जा सकता है। वैज्ञानिक को इस कार्य करने संबंधित प्रयोगों को एक नई कामयाबी मिली है। शोधकर्ताओं ने कहा है कि अगले चार सालो के भीतर विलुप्त हो चुके बालों वाले विशालकाय मैमथ हाथी दोबारा पैदा कर सकते हैं।

जानकारी के लिए बता दे कि क्योटो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एकिरा इरिटेनी ने यह अद्भुत शोध किया है। आपको बता दे कि हाथियों की यह प्रजाति अफ्रीका में करीब 12,000 वर्ष पहले थी। लेकिन अब यह पूर तरह से विलुप्त हो चुकी है। बता दे इन हाथियों के शरीर पर घने बाल पाए जाते थे। नए शोध के द्वारा इन मैमथ हाथियों को क्लोनिंग तकनीक के जरिए फिर से अस्तित्व में लाया जा सकता है। अगर ऐसा हो जाता है तो आने वाले समय में विलुप्त हो चुके जीवों को फिर से जीवीत किया जा सकेगा ऐसा वैज्ञानिकों का दावा है।

आपको बता दे कि बर्फ में जमे किसी मैमथ हाथी के नर्म ऊतकों के नमूने मिले है। इन ऊतकों की कोशिकाओं से तकनीक की सहायता से केंद्रक निकालकर उसे एक अफ्रीकी हाथी की कोशिकाओं में प्रत्यारोपित कर एक नई प्रजाति को जन्म दे सकते है। आपको जानकारी दे दे कि आज से करीब 10,000 ईसा पूर्व पहले एक धूमकेतु के पृथ्वी के वायुमंडल में फटने और आग लगने से बालों वाले मैमथ विलुप्त हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here