पर्यावरण का गला घोट रहें है बियर स्प्रे के खाली डिब्बे

0
85

जयपुर। प्रदुषण बहुत ही अधिक मात्रा में फैल रही है। ये दुनिया की सबसे गहरी जगह मारियाना ट्रेंच तक फैल गया है तो इससे आप अंदाजा लगा सकते है कि प्रदुषण कितनी मात्रा में और कि हद तक फैल गया है। इसका एक उदाहरण हम आपको देते है कि अमेरिका के यैलोस्टोन नेशनल पार्क में आने वाले प्रत्येक पर्यटक को अपने साथ बियर स्प्रे लाना अनिवार्य है। बता दे कि बियर स्प्रे एक प्रकार का नोन लीथल डिटर्जेंट है,

जिसका इस्तेमाल भालू के आक्रामक हो जाने पर उसे शांत करने के लिये होता है। इसके कारण भालुओं के हमलों से मनुष्य को बचाया जा सकता है। आपको बता दे कि जब भालु गुस्से में होते तो वो आक्रमक हो जाता है और वो बियर स्प्रे को छिड़कते ही कैप्सियम का एक घना बादल बनता है जो भालू को सांस लेने में दिक्कत पैदा करता है, और कुछ देर के लिये बेहोश हो जाता है जिससे उस जगह से जाने लिए इंसान को समय मिल जाता है और वो आपनी जान बचा सकते हैं।

जानकारी दे दे कि जहरीले तत्व पाये जाने के कारण इस स्प्रे को कमर्शियल फ्लाइट्स में साथ रखने की इज़ाज़त नहीं दी जाती है तो लोग बियर स्प्रे के खाली डिब्बे को पार्क के आसपास ही फेंक देते हैं इसके बारे में जानकारी दे दे कि कैप्सियम का सबसे घातक प्रभाव आंख, नाक, मुंह, गला, तथा फेंफड़ों पर पड़ता है और इसके खाली डिब्बे कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा करते हैं भालु को तो ये नुकसान पहुँचाता ही है लेकिन उसी के साथ ये इंसान को और पर्यावरण की की चीज़ों को भी प्रभावित करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here