ELECTION COMMISSION :चुनाव आयोग ने दिया प्रधानमन्त्री की फोटो वैक्सीन से हटाने के आदेश

0

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने इस सप्ताह की शुरुआत में ही चुनाव आयोग को एक शिकायत में बंगाल में “प्रधानमंत्री द्वारा आधिकारिक मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाया था।” अब सूत्रों के हवाले से ये खबर आ रही है कि चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव शुरू होने से पहले चुनाव आयोग ने सरकार से इन राज्यों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो को कोरोनावायरस वैक्सीन प्रमाणपत्र से हटाने के लिए कहा है मालूम हो यहाँ पर पहले से ही आचार संहिता लागू है।

इस मामले में पहले पश्चिम बंगाल के निर्वाचन अधिकारी से चुनाव आयोग द्वारा एक रिपोर्ट मांगी गई थी और फिर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को सूत्रों के अनुसार, तस्वीरें हटाने के लिए कहा गया था। सरकार से कहा गया है कि वह ऐसा तरीका अपनाए ताकि पीएम मोदी की फोटो चुनावी राज्यों में वैक्सीन प्रमाणपत्र पर दिखाई न दे।

प्रमाण पत्र पर प्रधानमन्त्री की फोटो हालाँकि अन्य राज्यों में लगाईं जा सकती हैं। गौरतलब है की टीकाकरण के दूसरे चरण में 60 से ऊपर वाले और गंभीर बीमारी वाले 45 से ऊपर के लोग के लिए सोमवार से कोरोना की वैक्सीन लेने के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चूका है।

मालूम हो की तृणमूल कांग्रेस ने कुछ दिन पहले ही चुनाव आयोग को पत्र लिखा था, इस पत्र में तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने चुनाव निकाय को पत्र लिखते हुए कहा था  “स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी प्रमाण पत्र पर प्रधानमंत्री अपनी तस्वीर, नाम और संदेश डालकर, न केवल अपने पद और शक्तियों का शोषण कर रहे है, बल्कि कोविड टीकों के उत्पादकों से उनके सराहनीय क्रेडिट भी चोरी कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here