वास्तु​शास्त्र: पिंजरे में कैद पंछी कही बन न जाए आपकी तरक्की में बांधा

0

हिंदू धर्म शास्त्रों के मुताबिक पशु पक्षियों की सेवा आपका सोया हुआ भाग्य जगा सकती हैं। वही वास्तुशास्त्र के मुताबिक घर में पक्षी रखने के ढेरों लाभ होते हैं मगर इन्हें रखते समय कुछ खास और महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी माना जाता हैं। तो आज हम आपको वास्तु में पक्षियों से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

बता दें कि अगर पक्षी पालने का शौंक रखते हैं तो घर के दक्षिणी हिस्से में पक्षियों का पिंजरा टांग दें। पक्षियों की चहचहाहट से घर में मौजूद मायूसी दूर हो जाती हैं। मगर पिंजरे का दरवाजा बनं न रखें। बल्कि पक्षी को इतना प्रेम से रखें कि खुला पक्षी भी आपका धर कभी छोड़कर न जा सकें। पिंजरे में पक्षियों को बंद रखने से परिवार के सदस्यों की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं साथ ही साथ धर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बढ़ता हैं।

वास्तुशास्त्र की मानें तो पक्षियों की सेवा करना बहुत बड़ा पुण्य माना जाता हैं। ऐसे में पिंजरे में पक्षियों को बंद कर पाप के तो भागीदारी बन ही जाते हैं साथ ही ऐसा करने से पक्षी हिंसक हो जाते हैं और उसकी वजह से धर में नकारात्मक ऊर्जा घर में आ जाती हैं। ऐसा भी कहा जाता हैं कि पक्षी सुख समृद्धि और सफलता का सूचक होते हैं। अगर इन्हें घर में पिंजरे में बंद कर दिया जाता हैं तो ये घर में स्थिरता, आर्थिक हानि का कारण बन सकते हैं। वही पिंजरे का इस्तेमाल पक्षियों को सुलाने के वक्त ही करें तो बेहतर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here