महाराष्ट्र में बाघिन हत्या मामले की जांच समिति नाटक है : उद्धव

0
42

सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का सहयोगी दल शिवसेना ने कथित आदमखोर बाघिन अवनि की हत्या की जांच के लिए गठित समिति को शनिवार को नाटक करार दिया। शिवसेना ने घटना की न्यायिक जांच कराने की मांग की। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अवनि की हत्या का समर्थन करने वाले लोग ही अब जज बनकर उसकी हत्या की जांच करेंगे। उन्होंने कहा कि इन्हीं लोगों ने अवनि की हत्या के लिए शिकारी नियुक्त किया था।

ठाकरे ने कहा, “यह बिल्कुल तमाशा है। जिन लोगों ने बाघिन को मारने की सुपारी दी थी वही अब उसकी मौत की जांच करेंगे। समिति को भंग किया जाना चाहिए और सेवानिृत्त या मौजूद न्यायाधीश से मामले की जांच करवाई जानी चाहिए।”

चौतरफा विरोध झेल रहे वन मंत्री सुधीर मुंगंतीवार ने मामले को ठंडा करते हुए कहा कि ठाकरे को अगर बाघिन की हत्या में कुछ संदेह है तो वह उनकी ही अध्यक्षता में जांच समिति गठित करने को तैयार है।

उन्होंने कहा, “लेकिन यह उनको स्वीकार्य नहीं है। मैंने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से सर्वोच्च न्यायालय के पांच अवकाश प्राप्त न्यायाधीशें की समिति नियुक्त करने की सिफारिश की है। इससे मामले में निराधार राजनीतिक विवाद का अंत हो जाएगा।”

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने वन मंत्री पर लगे आरोपों से उनका बचाव करते हुए कहा, “वह (मुंगंतीवार) खुद अवनि की हत्या करने के लिए बंदूक उठाकर नहीं गए।”

ठाकरे ने इसपर पलटवार करते हुए कहा, “सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी सीमा पर गोली चलाने नहीं गए थे, लेकिन उन्होंने कार्रवाई का पूरा श्रेय लिया। उसी प्रकार मुंगंतीवार को भी अवनि की हत्या की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here