विश्व कप 2019: तीन साल में इस तरह यह खिलाड़ी बना टीम इंडिया का प्रमुख गेंदबाज़

0
48

जयपुर (स्पोर्ट्स डेस्क) भारतीय टीम के मजबूत पक्ष पर गौर किया जाता है तो गेंदबाज़ी विभाग में सबसे नजरें जसप्रीत बुमराह पर ही जाती हैं। जसप्रीत बुमराह आज टीम इंडिया में प्रमुख तेज गेंदबाज़ के रूप में मौजूद हैं । यही नहीं आगामी विश्व कप में भी टीम इंडिया के लिए उनकी भूमिका महत्वपूर्ण रहने वाली है।

लेकिन 3 साल पहले बुमराह को मौका एक साधारण खिलाडी़ के तौर पर मिला था, जिसे उन्होंने अच्छी तरह से भुना । बात 2016 की है जब टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के हाथ चार वनडे मुकाबले हार चुकी थी। पांचवा वनडे खेला जाना था। टी 20 सीरीज के लिए जसप्रीत बुमराह को बुलाया ही गया था। अंतिम वनडे से पहले भुवनेश्वर कुमार भी चोटिल हो गए और जेट लेग के बावजूद बुमराह को खेलने का मौका दे दिया गया।उस दौरान बुमराह ने दस ओवर में 40 रन देकर 2 विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में एक मात्र जीत दिलाई थी। बुमराह ने उस दिन से लेकर अब तक कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। जसप्रीत बुमराह ने तीन साल में 49 वनडे खेलकर टीम इंडिया को मजबूत किया है। यही वजह है कि कई दिग्गज मानते हैं कि विश्व कप में जसप्रीत बुमराह टीम इंडिया के मुख्य गेंदबाज़ होंगे । वहीं 1975 और 1979 का विश्व कप खेलने वाले खब्बूल तेज गेंदबाज़ करस घावरी तो बुमरह , भुवनेश्वर, शमी की तिकडी़ को विश्व कप इतिहास का सबसे खतरनाक पेस आटैक करार देते हैं। बता दें की विश्व कप आगाज 30 मई से इंग्लैंड में होने वाला है ।भारतीय टीम को अपना पहला मुकाबला 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here