ओम पुरी की मौत के एक साल बाद सामने आए बड़े राज, इस महिला ने बताई कई बातें

0
58

आपको बता दें कि बॉलीवुड अभिनेता ओम पुरी की मौत के एक साल बाद फिल्म द गांधी मर्डर की निर्माता लक्ष्मी आर. अय्यर ने उनके जीवन से जुड़े कई किस्से शेयर किए है। वहीं लक्ष्मी अय्यर का कहना है कि ओमपुरी जी भौतिक चीजों में कुछ खास दिलचस्पी नहीं रखते थे और कहा कि इतना ही नहीं वो इतने शांत स्वभाव के थे कि कभी कभी इस फिल्म की टीम के लिए सादा भोजन भी बनाते थे।

आपको बता दें कि ओम पुरी की मौत 6 जनवरी 2018 को यानि की पिछले साल ही उनका निधन दिल का दौरा पड़ने से हुआ था और उस समय ओम पुरी मात्र 66 साल के ही थे जब उनका निधन हो गया था। आपको बता दें कि लक्ष्मी अय्यर ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि ओम पुरी अपने आप में एक संस्थान थे जिनसे बहुत कुछ सीखा जा सकता था। वहीं लक्ष्मी ने ये भी बताया कि वो बहुत ही विनम्र स्वभाव के थे और सबके साथ भी विनम्रता से ही पेश आते थे और उन्हें किसी दृश्य के लिए तैयारी करते देखना और फिर बेहतरीन अदाकारी के साथ प्रफॉर्म करते देखना मेरे लिए आशीर्वाद की तरह ही था।

वहीं लक्ष्मी ने बताया कि वह एक बहुत ही सरल व्यक्ति थे जो कभी कभी अपनी फिल्म की टीम के लिए सादा भोजन भी बनाते थे। अय्यर ने बताया कि व्यक्तिगत रूप से जब मैं उनसे मिलती थी तो वो हमेशा मुझे ये कहकर चिढ़ाते थे कि वह मेरी शादी एक अच्छे लड़के से कराएंगे और बताया कि मुझे याद है कि जब मैंने उन्हें पहली बार फोन किया तो उन्होंने मुझसे स्क्रिप्ट की हार्ड कॉपी मांगी थी।

वहीं इसके बाद उन्होंने मुझे फिर से मिलने के लिए कहा था जिसके बाद उन्होंने फिल्म करने की बात की और फिर हमारे साथ फिल्म साइन कर ली थी। आपको बता दें कि लक्ष्मी ने ये भी बताया कि वो हमारी फिल्म में महत्वपूर्ण रोल प्ले कर रहे थे और उनके किरदार का नाम टी. जी. रखा गया था।

आपको बता दें कि ये नाम स्वतंत्र भारत के इंटेलिजेंस ब्यूरो के पहले निदेशक के नाम पर रखा था। वहीं लक्ष्मी ने कहा कि द गांधी मर्डर एक कमर्शियल ऐतिहासिक थ्रिलर है और ना कि कोई त्यौहारी फिल्म। आपको बता दें कि ये फिल्म महात्मा गांधी की हत्या के पीछे असली सच पर हमारी समझ है पर बेस्ड होगी और इसके साथ ही ये फिल्म एक साथ दुनियाभर में रिलीज की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here