Tajmahal, आगरे का किला 21 सितम्बर से खुलेंगे

0

विश्व प्रसिद्ध ताजमहल और आगरे का किला 21 सितम्बर से आम लोगों के लिए खोल दिए जाएंगे। सोमवार को इसकी आधिकारिक घोषणा की गई। आगरा के जिलाधिकारी पीएन सिंह ने ट्वीटर पर यह घोषणा की।

दोनों ऐतिहासिक स्थलों पर आम लोगों के लिए कोरोना से सम्बंधित गाइडलाइन्स सक्र्यूलेट कर दिए गए हैं।

Twinkle Khanna ने वायरल मीम पर प्रतिक्रिया दी

जिलाधिकारी के मुताबिक शुरुआत में एक दिन में सिर्फ पांच हजार लोगों को ताज का दीदार करने की अनुमति होगी।

इसी तरह आगरे के किले तक 2500 लोग ही जा सकेंगे।

दोनों विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल कोरोना महामारी के कारण 22 मार्च से ही बंद हैं।

आगरा में कोरोना का काफी असर रहा है। जिले में कोविड -19 का दैनिक परीक्षण बढ़कर 2,500 तक पहुंच गया है, जिससे मामलों की संख्या में भी जबरदस्त तेजी देखी जा रही है।

पिछले 24 घंटों में आगरा में 85 नए मामले दर्ज हुए हैं। यह अब सक्रिय मामलों की संख्या 615 हो गई है, जिससे रिकवरी दर गिरकर 78.55 प्रतिशत पर पहुंच गई है। अब तक 2,652 लोग बीमारी से उबर चुके हैं। वहीं अब तक जांचे गए नमूनों की संख्या 1,32,684 हो गई है।

रविवार को लगने वाले लॉकडाउन के कारण आगरा के बाजार बंद रहे और ट्रैफिक भी कम रहा। तीन दिन से चल रहा सीरो-सर्वे रविवार को संपन्न हुआ। इनके नमूनों को जांच के लिए आईसीएमआर भेजा जा रहा है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleAsthma disease:कोरोना दौर में अस्थमा रोग घातक, बचाव के लिए करें इस चाय का सेवन
Next articleMahalaxmi Vrat: मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए रखा जाता है यह व्रत
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here