सीरिया: हमले के विरोध में बगदाद में विरोध प्रदर्शन, जानिए इसके बारे में !

0
132

सीरिया में अमेरिका के नेतृत्व में संयुक्त हवाई हमलों के विरोध में बगदाद में शिया मौलवी मुख्तदा अल-सदर के अनुयायियों और कई नागरिक समाज कार्यकर्ताओं ने विरोध रैली निकाली। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यह प्रदर्शन रविवार को तहरीर चौक पर हुए, जिसमें हजारों की संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया। ये लोग इराक और सीरिया के झंडे लेकर सीरिया के लोगों के प्रति एकजुटता दिखाने के इरादे से यहां जुटे थे।

इस दौरान सीरिया पर बमबारी की निंदा की नारेबाजी भी की गई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने बैनर पकड़ रखे थे, जिन पर “नहीं, नहीं, अमेरिका” और “नहीं, नहीं साम्राज्यावदा” और “अमेरिका ने लोकतंत्र के नाम पर सीरियाई लोगों की हत्या की” जैसे नारे लिखे हुए थे। प्रदर्शनकारियों ने अमेरिकी झंडे भी जलाए।

इस प्रदर्शन के आयोजक शेख हुसैन अल-सइदी ने सिन्हुआ को बताया, “मुख्तदा अल-सदर क आह्वान पर हमारे अनुयायियों और इराकी लोगों ने सीरिया पर अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन की इस संयुक्त कार्रवाई के विरोध में यह प्रदर्शन किया है।”

सइदी ने कहा, “शनिवार तड़के सीरियाई शहरों पर हुई बमबारी गलत और घातक प्रहार है और यह अंतर्राष्ट्रीय कानूनों और मानवीय मूल्यों के खिलाफ है।”

इस प्रदर्शन में शामिल एक महिला प्रदर्शनकारी जबरा अल-तेइ ने सिन्हुआ को बताया, “सीरिया हमारा भाई है और वह अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के हमले का शिकार हुआ है लेकिन दुर्भाग्यवश वे भूल गए हैं कि इस हमले में निर्दोष लोग मारे जा रहे हैं। हम सीरिया के लोगों के साथ एकजुटता से खड़े हैं और तहरीर चौक पर सीरिया के खिलाफ इस हमले की निंदा करने के लिए खड़े हुए हैं।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleपापोन की घटी फैन फॉलोविंग,परफॉरमेंस के लिए अपने ही राज्य असम में नहीं बुलाया गया ये स्टार सिंगर…ये हरकत बनी वजह
Next articleसीरिया में शांति बहाली हेतु वार्ता के लिए तैयार : मैक्रों
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here