केरल के 150 स्कूल में बच्चे सीख रहे है फेक न्यूज़ की पहचान करना

0
843

जयपुर। सोशल मीडिया के आज इस दौर में फेक न्यूज़ अपने चरम पर है। पिछले कुछ सालों में कई फेक न्यूज़ हमें देखने को मिल रही है और अब इन फेक न्यूज़ के चलते कई लोगों की जान पर बन आई है। आपको मालूम होगा की किस तरह पिछले कुछ महीनो में सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की फेक न्यूज़ चल रही थी और इस खबर के चलते कई लोग भीड़ की हिंसा के शिकार हो गए।

इन सबके अलावा सोशल मीडिया का इस्तेमाल राजनीतिक दलों द्वारा भी किया जाता है जिससे कई बार वो भी झूठी तस्वीरे और खबरे अपने राजनीतिक फायदे में चला देते है। ऐसा कई बार वो जाने में करते है कई बार अनजाने में।

इस फेक न्यूज़ के जाल से बचने के लिए केरल के करीब 150 स्कूल में बच्चो को फेक न्यूज़ की पहचान करना सीखाया जा रहा है।

कन्नूर के जिला कलेक्टर, मीर मोहम्मद अली ने “सत्यमेव जयते”  नाम से एक अनूठी पहल शुरू की है। इस पहल का उद्देश्य स्कूल बच्चों को नकली खबरों के बारे में शिक्षित करना है, यह खतरनाक कैसे है और इसे रोकने के लिए क्या किया जा सकता है।

इस कार्यक्रम को शुरू करने वाले मीर मोहम्मद का कहना है की “यह मूल रूप से छात्रों में कुछ विशेषताओं को लागू करने के लिए एक प्रशिक्षण कार्यक्रम है, ताकि उनमें कुछ मूल्य प्रदान किए जा सकें। हम उन्हें इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारी के बारे में शिक्षित करना चाहते हैं कि सत्य के बीच अंतर कैसे करें, झूठी क्या है ये बताना चाहते है।”

बताया जा रहा है की राज्य के अन्य स्कूल में भी इस कार्यक्रम की शुरुवात जल्द हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here