पत्थर मारते हैं, फिर जानते हैं गर्भ में लड़का है या लड़की

0
99

जयपुर। जैसा की आप जानते हैं कि हमारे देश में गर्भवती महिला के गर्भ में इस बात का पता करना कानूनन अपराध है कि उसके गर्भ में लड़का पल रहा है या फिल लड़की। तथा ऐसा करने पर देश में कानूनन कड़ी सजा का प्रवधान है। तथा ऐसे अड्डों का पता बताने पर पता बताने वाले व्यक्ति को सरकार की तरफ से 2,50,000 रुपये का इनाम दिया जाता है। लेकिन आज हम आपके लिए इस आर्टिकल में एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं। जहां पर इस बात का पता लगाने के लिए कि गर्भ में लड़का पल रहा है या लड़की लोग अनौखा तरीका अपनाते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गर्भ जांच कराने की मशीन पर तो सरकार ने रोक लग दी है। लेकिन लोग आज भी घरेलु तरीके से इस बात का पता लगाने की कोशिश करते हैं कि गर्भ में क्या पल रहा है बता दें कि झारखंड के लोहरदगा स्थित खुखरा गांव के लोग भ्रूण के लिंग का पता लगाने के लिए एक ऐसे अजीब तरीके को अपनाते हैं जिससे वो पेट में पल रहे बच्चे के बारे में जान लेते हैं।

बता दें कि इस गांव के लोग का मानना हैं कि यहां स्थित एक पर्वत पिछले 400 सालों से लोगों का भविष्य बता रहा है। इसे लेकर लोगों का कहना है कि इस पर्वत पर बनी चाँद की आकृति गर्भ में पल रहे बच्चे के बारे में बताती है। लोगों का मानना है कि इस पहाड़ पर पत्थर फेंककर मारते हैं तो ये पहाड़ लिंग के बारे में बता देता है।

आपकी जानकारी के लिए बात दें कि भ्रूण के लिंग का पता करने के लिए गर्भवती महिला को एक निश्चित दूरी से पत्थर को इस पहाड़ी पर बने चांद की ओर फेंकना होता है। अगर पत्थर चंद्रमा के आकार के ठीक बीच में जाकर लगा तो लोग मानते हैं कि गर्भ में लड़का है। और अगर वह पत्थर चंद्रमा के बाहर लगता है तो लोगों का मानना है कि तब बेटी का जन्म होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here