स्टीफन हॉकिंग की पीएचडी थीसिस ऑनलाइन जारी की गई, अब तक 20 लाख लोगों ने देखी

0
86
Professor Stephen William Hawking, CH, CBE, FRS, FRSA, at the Department of Applied Mathematics and Theoretical Physics, University of Cambridge..Photographed with his personal assistant, Judith Croasdell..Photograph © Jason Bye.t: 07966 173 930.e: mail@jasonbye.com.w: http://www.jasonbye.com.

ब्रिटेन के मशहूर भौतिक विज्ञानी स्टीफन हॉकिंग आज दुनिया से अलविदा कह गए। उनके किये गये शोध कार्यों को लोग सदियों तक याद करेंगे। इसका प्रमाण हाल ही में देखने को मिला है। दरअसल स्टीफन की पीएचडी थीसिस को ऑनलाइन जारी किया गया था। महज कुछ ही दिनों में इसे 20 लाख लोगों ने इंटरनेट पर देखा हैं।

हॉकिंग ने वर्ष 1966 में यह पीएचडी थीसिस बनाई थी। हाल ही में इसे कैंब्रिज यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर जारी किया गया है। यह थीसिस इतनी लोकप्रिय हो गई कि पहले ही दिन वेबाइट का पब्लिकेशन सेक्शन जाम हो गया था। दरअसल इस शोध पत्र को एक साथ 5 लाख लोगों ने डाउनलोड करने का प्रयास किया था। प्रॉपर्टीज ऑफ एक्सपांडिंग यूनिवर्सेस’ शीर्षक के नाम से मशहूर यह पीएचडी थीसिस ब्रह्मांड के अनोखे रहस्य खोलती है।

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के ऑर्थर स्मिथ की माने तो स्टीफन की यह थीसिस अब तक सबसे ज्यादा देखा जाने वाला दस्तावेज बन चुका है। यूनिवर्सिटी के अपोलो संग्रह में इसे सबसे ज्यादा बार पढ़ा गया है। स्टीफन हॉकिंग ने 134 पन्नों का यह दस्तावेज तब लिखा था, जब वह 24 वर्ष के शोधार्थी थे। वह कैम्ब्रिज में स्नातकोत्तर के बेहतरीन छात्रों में माने जाते थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह पीएचडी थीसिस कुछ हफ्ते पहले ही ऑनलाइन जारी हुई है। तब से लेकर अब तक इसे करीब बीस लाख लोगों ने देख लिया है। इससे पहले हॉकिंग की पीएचडी की थीसिस को देखने के लिए यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी में 65 पाउंड फीस देनी होती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here