पेट्रोल, डीजल, गैस की महंगाई पर सपा ने किया प्रदर्शन

0
62

पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी (सपा) ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट पर जोरदार प्रदर्शन किया। समाजवादी कार्यकर्ताओं ने केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और प्रदेश के राज्यपाल को पत्र भेजकर इस मामले में हस्तक्षेप कर जनता के हित में फैसला लेते हुए तत्काल बढ़ी हुई कीमतों को वापस लिए जाने की मांग की।

प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने कहा कि सरकार को इतना समय हो गया, लेकिन वह आम जनता की समस्याओं और उसकी पीड़ा को लेकर बिल्कुल गंभीर नहीं हुई है। ये पेट्रोल और डीजल के साथ रसोई गैस के दाम लगातार बढ़ाए जा रहे हैं और उज्ज्वला योजना का ढिंढोरा पीटकर देश को गुमराह कर रहे हैं। ईंधन की महंगाई से छोटे कारोबार बेहद प्रभावित हुए हैं, कुछ तो बंद हो गए और कुछ बंद होने के कगार पर हैं। इस वजह से देश में बेरोजगारी भी बढ़ रही है। आज देश में आपातकाल जैसे हालात हैं। इस सरकार में लोग भुखमरी के कगार पर पहुच चुके हैं।

सपा के महानगर अध्यक्ष हाजी मन्नू कुरैशी ने कहा कि युवा बेरोजगारी की हालत में हैं। महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है, लेकिन सरकार सो रही है। उसे देश और प्रदेश की जनता से लगता है कोई सरोकार ही नहीं रह गया है। सरकार जनता का पैसा अखबारों में दो-दो पन्ने के विज्ञापन पर खर्च कर लोगों को बेवकूफ बनाने में लगी हुई है।

उन्होंने कहा कि देश में बढ़े पेट्रोल-डीजल के दामों से उद्योग प्रभावित हो रहा है। किराये में वृद्धि हो रही। महंगाई बढ़ रही है, हर जरूरी सामान के दाम बढ़ रहे हैं। रोजमर्रा के सामान के दाम भी आसमान छू रहे हैं, लेकिन सरकार जनता की पीड़ा को नजरअंदाज करती आ रही है।

राज्यपाल को भेजे गए ज्ञापन में मांग की गई कि पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए। साथ ही बढ़ी हुई कीमते तत्काल वापस ली जाए। देश और प्रदेश में बढ़ रही मंहगाई को रोका जाए, बिजली विभाग में बढ़ रही दरों को रोका जाए, कानून व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए, बाढ़ पीड़ितों को त्वरित मदद पहुचाई जाए। बहन-बेटियों की सुरक्षा और बेराजगारों को रोजगार की गारंटी दी जाए।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here