तो इन गोभीयों में पाया जाता हैं दिल की बीमारी का इलाज

0
85

जयपुर। हमारे शरीर में कर प्रोटिन और विटामिन हरी सब्जियों से प्राप्त होते है। ये हमारी सेहत के लिए बहुत ही जरूरी होती है। इसलिए डॉक्टर भी हरी सब्जियां खाने के लिए कहते है। ये हमारे शरीर का संतुलन बनाये रखती है। हरी सब्जियों में गोभी भी एक है इसकी कई प्रजातियां है जैसे- ब्रोकली, पत्तागोभी और बंदगोभी आदी। इस परिवार की सब्ज़ियों में दिल की हिफ़ाज़त करने वाला रसायन होता है।

इन खास रसायन में दिल की धमनियों को बीमारियों से बचाने के रक्षा प्रणाली होती है ये उन्हें प्राकृतिक रूप से तेज़ और मज़बूत करते है। आपको बता दे की दिल संबंधी अधिकतर बीमारियाँ धमनियों में चर्बी इकट्ठी हो जाने से होती हैं हालाँकि ऐसा नहीं है कि धमनियों में यह चर्बी सभी जगह एक जैसी ही इकट्ठी होती हो,कहीं ज़्यादा तो कहीं कम होती है। हाल ही के शोध में बताया गया है कि एक ख़ास तरह का प्रोटीन रक्त धमनियों में चर्बी जमा होने से रोकता है जिसका नाम एनआरएफ़2 होता है।

ये गोभी के परिवार में, जैसे ब्रोकली जैसी हरी सब्ज़ियों में पाया जाना वाला ब्रैसिका नामक रसायन इन संवेदनशील धमनियों में एनआरएफ़2 नामक रसायन को सक्रिय कर सकता है। आपको ये और बता दे की सल्फ़ोराफ़ेन नामक रसायन ब्रोकली में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है। इसलिए वैज्ञानको का कहना है की गोभी के परीवार से रक्षात्मक लक्ष्य हासिल किए जा सकते हैं। इनमें जो रसायन पाया जाता है वह प्रोटीन को सक्रिय करके सूज़न को कम कर देता है। जिससे दिल की बिमारी का आराम मिलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here