सुस्ती /मूडीज ने कहा इस साल महज 5.8 फीसदी रहेगी देश की विकास दर

0
68

जयपुर। मंदी का दौर देख रही भारत की अर्थव्यवस्था के लिए चालू वित्त वर्ष के लिए मूडीज इन्वेस्टर सर्विसेज ने अपना विकास अनुमान लगाया है और अनुमान को घटाकर 5.8% कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि इससे पहले मोदी ने अपने जारी हनुमान ने बताया कि देश की विकास दर 6.2% रहने वाली है रेटिंग एजेंसी ने कहा था कि अर्थव्यवस्था सुस्ती के दौर से गुजर रही है और इसके लिए जिम्मेदार कारण लंबे समय तक बने रह सकते हैं.

वही मूवीस का यह अनुमान भारतीय रिजर्व बैंक के अनुमान से भी कम है वहीं आरबीआई ने पिछले सप्ताह कहा था कि चालू वित्त वर्ष में देश की विकास दर 6.1 फीसद रह गई है.

वहीं एक रिपोर्ट में कहा गया था कि विनिवेश की सुस्ती दर से विकास दर घट रही है और निवेश घटने के साथ साथ ही खपत में भी कमी देखी जा सकती है खपत घटने का कारण यह है कि रोजगार तेजी से नहीं बढ़ रहा है और गांवों में घरों की वित्तीय हालत अच्छी नहीं है.

वहीं खपत घटने के कारण यह भी है कि रोजगार तेजी से नहीं बढ़ रहे हैं और गांवों में घरों की वित्तीय हालत अच्छी नहीं है एजेंसी ने कहा कि यह सुस्ती मुख्यतः घरेलू कारणों से है और यह लंबे समय तक बनी रह सकती है वहीं रेटिंग एजेंसी के मुताबिक साल 2020 से लेकर साल 2021 में विकास दर करीब 6.6 फीसद पर पहुंच सकती है.

वहीं पिछले महीने एशियाई विकास बैंक ने भी देश का विकास दर अनुमान तथा आधा फीसद घटाकर 6.5 फीसद कर दिया था ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इकोनॉमिक कॉरपोरेशन एंड डेवलपमेंट ने भी पिछले महीने की विकास दर का अनुमान 1.3 फीसद अंक घटाकर 5% कर दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here