सिग्नेचर पुल अक्टूबर तक बनकर तैयार हो जाएगा : सीएम केजरीवाल

0
63

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि अपर्याप्त फंड के कारण कई निर्धारित समयसीमा को चूकने के बाद अब सिग्नेचर पुल अक्टूबर तक बनकर तैयार हो जाएगा। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली सरकार ने सिग्नेचर पुल की अंतिम किश्त को मंजूरी दे दी है और अब ‘कोई भी व्यवधान नहीं बचा है।’

सिग्नेचर पुल परियोजना को 1997 में मंजूरी मिली थी। यह परियोजना संकरे वजीराबाद पुल में एक दुर्घटना के बाद अस्तित्व में आई थी, जहां एक स्कूल बस यमुना में गिर गई थी। इस दुर्घटना में 22 बच्चे मारे गए थे।

अपर्याप्त फंड की वजह से इस परियोजना में कई वर्षो की देरी हुई है। परियोजना का खर्च भी 1100 करोड़ रुपये से बढ़कर 1575 करोड़ रुपये हो गया, जो कि लोक निर्माण विभाग के लिए एक बड़ी चिंता का कारण बन गया। विभाग ने परियोजना के लिए अब तक 1,244 करोड़ रुपये जारी किए हैं।

परियोजना की संकल्पना 2004 में की गई थी और इसके लिए दिल्ली कैबिनेट से 2007 में मंजूरी मिली थी। इसके लिए पहली समयसीमा 2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों से पहले तय की गई थी, जिसे बाद में बढ़ाकर 2013 कर दिया गया।

परियोजना की समयसीमा फिर से बढ़ाकर जून 2016 तक कर दी गई और उसके बाद जुलाई 2017 और फिर इसे बढ़ाकर दिसंबर 2017 कर दिया गया।

675 मीटर लंबा और 35.2 मीटर चौड़ा यह पुल देश का पहला केबल आधारित पुल है, जो यमुना नदी के उपर से वजीराबाद को जोड़ेगा।

पुल के एक बार पूरा हो जाने के बाद, मौजूदा वजीराबाद पुल से वाहनों का दबाव कम होगा। यह पूर्वी क्षेत्र की वजीराबाद सड़क को नदी के पश्चिमी तट पर बाहरी रिंग रोड से जोड़ेगा।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here