सोमवार विशेष: इन पापों को शिव कभी नहीं करते माफ, देते हैं कठोर दंड

0

सोमवार का दिन विशेष रूप से भगवान शिव की आराधना के लिए खास माना जाता हैं शिव को भोलेनाथ कहा जाता हैं क्योंकि ये सादगी पसंद भगवान हैं। उन्हें कच्चा फल पसंद हैं एक लोटा पानी से भी भोलेनाथ प्रसन्न हो जाते हैं खासतौर से अगर आप अपनी जिंदगी से निराश या हताश हैं तो शिव की आराधना जरूरी करें। मगर शिव जितनी जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं उतनी ही जल्दी नाराज भी होते हैं खासतौर से ऐसे लोगों से जो बेईमानी और धोखेबाजी करते हैं।ज्योतिष की माने तो भगवान शिव हर व्यक्ति के मन की बात सुनते हैं शायद यही कारण हैं कि अज 21वीं सदी में शिव की आराधना सबसे अधिक लोग करते हैं युवाओं के बीच शिव जी अधिक प्रचलित हैं। मगर शिव जितनी जल्दी प्रसन्न होते हैं उनका गुस्सा उससे भी प्रलयंकारी हैं। वही शिव पुराण में कार्य, बात व्यवहार और सोच द्वारा किए गए कुछ पाप वर्णित हैं जिसे भगवान शिव कभी माफ नहीं करते हैं। ऐसा मनुष्य हमेशा ही शिव के कोप का भाजन होगा और कभी भी सुखी जीवन व्यतीत नहीं कर सकता हैं।

आपने सुना होगा कि ऊपरवाले से कुछ भी छुपा नहीं हैं। यहां तक कि आप अपने दिमाग में जो सोच रहे हैं वह भी ईश्वर जानता हैं। इसलिए भले ही बात और व्यवहार में आपने किसी को नुकसान ना पहुंचाया हो। मगर मन में किसी के प्रति कोई दुर्भावना है या आपने किसी का अहित सोचा हैं, तो यह भी पाप की श्रेणी में आता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here