शायरी: हमें फिर सुहाना नजारा मिला क्योंकि जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला

0
149

जयपुर। आज हम आपके लिए इस आर्टिकल में दिल को छु लेने वाली ऐसी शायरियां लेकर आए हैं जो आपको आपके प्यार की याद दिला देंगी। जैसा की आप जानते हैं कि प्यार के विना जीवन अधुरा होता है। तथा हर इंसान की यही चाहत होतीा है कि उसोे एक ऐसा साथी मिले जो उसे इस दुनिया में सबसे ज्यादा प्यार करे। आज आपको इन शायरियों को पढ़कर एपने साथी की साद जरुर आ जाएगी।

1. हर पल मोहब्बत करने का वादा है आपसे, हर पल साथ निभाने का वादा है आपसे,

कभी ये मत समझ न हम आपको भूल जायेंगे, जिंदगी भर साथ चलने का वादा है आपसे।

2. जो कोई सोच भी न सके वो बात है हम, जो ढल के नई सुबह लाये वो रात है हम,

अक्सर लोग रिश्ते बना कर छोड़ दिया करते है, जो जिंदगी भर साथ निभाए वो साथ है हम।

शायरी: हमें फिर सुहाना नजारा मिला क्योंकि जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला

3. हमे फिर सुहाना नज़ारा मिला है, क्योंकि जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला है,

अब जिंदगी में कोई ख्वाइश नही रही, क्योंकि हमे अब तुम्हारी बाहों का सहारा मिला है।

4. इश्क बिना जिंदगी फ़िज़ूल है, लेकिन इश्क के भी अपने उसूल है,

कहते है इश्क में है बहुत उल्फ़ते, जब तेरे जैसा हो साथी तो सब कबूल है।

5. हम तुझे याद करते है रात की तन्हाई में, दिल डूबता है दर्द की गहराई में,

हमे मत ढूंढना इस जमाने की भीड़ में, क्योंकि हम मिलेंगे तुझे तेरी ही परछाई में।

6. इन आँखों से उनकी तस्बीर को कैसे हटाये, इस दिल से उनकी यादें कैसे मिटाये,

हम उन्हें कैसे भुला सकते हैं, इन धड़कनों को उनके बिन अब कैसे चलाये।

7. तेरा नाम ही क्यों ये दिल रटता है, क्यों ये दिल सिर्फ तुझ पे ही मरता है,

न जाने कितना नशा है तेरे इश्क में, अब तो तेरी याद में ही ये दिन कटता है।

8. न जाने कैसा ये तीर जिगर के पार हुआ, न जाने क्यों ये दिल बेकरार हुआ,

तू कभी मेरे सामने तो आया नही, फिर भी न जाने क्यों तुझसे इतना मुझे प्यार हुआ।

9. मैंने तो सिर्फ तुझ से मोहब्बत करने की दुआ मांगी है, मैंने तो हर दुआ में सिर्फ तेरी वफ़ा मांगी है,

ये ज़माना लाख जले हमारी मोहब्बत से, मैंने तो सिर्फ तुझसे मोहब्बत करने की सजा मांगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here