शर्मनाक – झोंपड़ी में मां के साथ सो रहे दो बच्चों की दर्दनाक मौत, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

0
145

जयपुर,  नेपाल में एक झोपड़ी मे दम घुटने से दो बच्चों समेत एक 35 वर्षीय महिला की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि महिला को एक परंपरा के तहत झोपड़ी मे भेजा गया था। जिसमे कोई खिड़की नहीं थी। बता दें कि नेपाल मे महिला के पीरियड्स आने पर उसे अछूत माना जाता है । जिसके चलते महिला को अलग झोपड़ी मे रहने पर मजबूर किया जाता है। काठमांडू पोस्ट मे छपि एक खबर के अनुसार मामला बाजुरा जिले का बताया जा रहा है।

अखबार ने लिखा है कि माहवारी के चौथे दिन अंबा बोहोरा ने मंगलवार रात को अपने नौ और 12 साल के बेटों के साथ भोजन किया और इसके बाद झोपड़ी मे सोने के लिए गई। जहां झोपड़ी मे गर्म रखने के लिए आग जल रही थी। मामले को लेकर ग्रामीणों का कहना है कि सोने के दौरान कंबल मे आग लग गई।

जहां दम घुटने से दो बच्चों समेत महिला की मौत हो गई। वहीं मामले  की सूचना के बाद प्रशासन मे हड़कंप मच गया। जहां  मुख्य जिला अधिकारी चेतराज बराल ने मामले की जांच के आदेश दिए और साथ ही जिल प्रमुख को मौके पर जाककर जानकारी जुटाने के आदेश दिए गए हैं।Image result for झोपड़ी में भेजने से महिला की मौत

बता दें कि नेपाल मे एक प्रथा के दौरान किसी भी महिला को माहवारी आने पर अछूत माना जाता है। जिसके चलते उन्हें अलग झोपड़ी मे रहना पड़ता है।Image result for झोपड़ी में भेजने से महिला की मौत

हालांकि सरकार ने इस तरह की प्रथाओं पर रोक लगा रखी है लेकिन फिर भी कई जगहों पर इन्हें निभाया जाता है। मामला सामने आने के बाद कई देशों द्वारा प्रथा की आलोचना की जा रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here