विधानसभा चुनाव: छावनी में तब्दील हुआ नगालैंड

0
1993
file photo

नगालैंड में इस साल विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। विधानसभा चुनावों की तारीख 27 फरवरी है। इसके लिए जहां राजनीतिक दल चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं, वहीं चुनाव आयोग भी पूरी तरह से चौकस हो रहा है। नगालैंड सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील माना जाता रहा है। इस ववजह से स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराना चुनाव आयोग की ज़िम्मेदारी होती है।

सुरक्षा की तैयारियां शुरु

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अभिजीत सिन्हा के मीडिया सेल ने रविवार की शाम को बताया कि केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल की 281 कंपनियों में से 77 कंपनियां नगालैंड पहुंच चुकी हैं और उन्हें पूरे राज्य में तैनात कर दिया गया है। सशक्त बलों के साथ साथ पुलिस चेक प्वाइंट भी बनाए जा रहे हैं, जिससे कि किसी भी तरह के नकदी की आवाजाही, हथियारों, शराब और अन्य अवैध सामग्री की तस्करी पर रोक लगाई जा सके।

अभी ज़्यादातर सशस्त्र बल त्रिपुरा के में लगे हुए हैं, जहां 18 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने हैं। इसके बाद बाकी सशस्त्र बल भी नगालैंड पहुंच जाएंगे। नगालैंड में फिलहाल पीपल्स फ्रंट पार्टी की सरकार है, जिसका हाल ही में भाजपा के साथ गठबंधन टूटा है, पर माना जा रहा है कि चुनाव के बाद ये गठबंधन वापस हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here