अब तक के दूसरे सबसे बड़े हीरे का पता लगाया गया

0

मशहूर फैशन ब्रांड लूई वीटॉन हीरे की एक दुर्लभ और असाधारण नमूने को एक नया रूप देने के लिए पूरी तरह से तैयार है। इस 1758 कैरेट के हीरे का नाम सेवेलो डायमंड है, सेत्स्वाना भाषा में जिसका अर्थ ‘दुर्लभ खोज’ है। यह हीरा ल्यूकारा डायमंड कॉर्प (हीरे की खोज और खनन कंपनी) के सौ प्रतिशत स्वामित्व वाली कारोवे खदान से मिला है जो बोत्सवाना में स्थित है। यह अब तक ढूंढ़ा गया दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा अपरिष्कृत हीरा है और बोत्सवाना से बाहर निकला सबसे बड़ा हीरा है। पेरिस में 21 जनवरी को की गई घोषणा के मुताबिक, ल्यूकारा डायमंड कॉर्पोरेशन और एचबी कंपनी (बेल्जियम के शहर एंटवर्प में हीरा निर्माण कंपनी) के साथ मिलकर अब तक ढूंढ़ा गया दुनिया का सबसे दूसरा बड़ा अपरिष्कृत हीरा अब अपना रूप बदलने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

दुनिया का सबसे बड़ा हीरा कलिनन हीरा है जो 3106 कैरेट का है। इसका पता 1905 में दक्षिण अफ्रीका में लगाया गया था। यह अभी ब्रिटेन राजघरानों के शाही संग्रह में शोभायमान है।

सेवेलो की गुणवत्ता, इसकी संरचना इत्यादि के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने में अभी अगले कुछ और महीनों का वक्त लगेगा। यह न केवल अपने आकार के लिए बल्कि अपने रंग और गठन के दृष्टिकोण से भी शानदार है। इसके ऊपर कार्बन की एक पतली सी परत है जो अपने अंदर दो अरब साल के प्राचीन इतिहास को समेटे हुए हैं।

एचबी कंपनी के साथ लुई विटॉन इस दिशा में गहराई से काम कर रहा है। इसकी वास्तविक क्षमता का आकलन करने के लिए कंपनी द्वारा नवीनतम स्कैनिंग और तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है और इसके साथ ही आने वाले समय में इसे किस तरह का आकार और रूप दिया जाएगा इस बारे में भी योजनाएं बनाई जा रही हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleआयुष्मान-जितेन्द्र ही नहीं बल्कि इन अभिनेताओं ने भी पर्दें पर निभाएं समलैंगिक संबंध,देखें तस्वीरें
Next articleमहिला ने दिया जुड़वा बच्चों को जन्म, पर पिता अलग-अलग !
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here