वैज्ञानिकों ने ऐल्युमिनियम के पाउडर से हाइड्रोजन उत्पन्न कर बनाई ऊर्जा

0
64

जयपुर। वैज्ञानिक कई तरह के प्रयोग कर रहे है ऊर्जा बनाने के लिए। कहीं शैवाल से तो कहीं जीवाणुओँ ईंधन बनाया जा रहा है। लेकिन फिर भी दुनिया में ऊर्जा की कमी है। वैज्ञानिकों का कहना है की कोई भी चीज बेकार नहीं जाती है और वैज्ञानिकों की यह खोज इस बात पर खरा उतरती है। वैज्ञानिकों ने ऐसा ऐल्युमिनियम नैनो पाउडर की खोज की है जो  मूत्र को तुरंत हाइड्रोजन में बदल देगा जिसका इस्तेमाल सेल को ऊर्जा देने  में किया जा सकता है।

और इस ऊर्जा से किसी भी प्रकार का कोई प्रदीषण नहीं होगा। इस ऊर्जा का उपयोग स्वच्छ ऊर्जा उपलब्ध कराने में किया जा सकता है। इस शोध में भारतीय मूल के एक वैज्ञानिक भी शामिल हैं। यूएस की आर्मी रिसर्च लैबरेटरी (एआरएल) के शोधकर्ताओं कहा इस बात की  पुष्टि बहुत पहले कर दी थी और इस पर आज वह लोग खरा भी उतर गये है।

इन शोधकर्ताओं ने बताया कि उनके द्वारा बनाया गया नैनो-गैल्वैनिक ऐल्युमिनियम पाउडर पानी के संपर्क में आने पर शुद्ध हाइड्रोजन का उत्पादन कर सकता है जो कि  बिजली उत्पन्न कर सकता है। शोधकर्ताओं ने पानी के सम्मिश्रण वाले किसी तरल पदार्थ में अपना पाउडर मिलाकर ऐसी ही रासायनिक क्रिया की है जिससे यह परीणाम  मिले है। इसी चौंकाने वाली बात तो ये है कि इस पाउडर में मूत्र मिलाने से सामान्य जल मिलाने के मुकाबले कहीं ज्यादा दर से हाइड्रोजन पैदा होती है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here