वैज्ञानिकों ने तैयार किया ऐसा डिवाइस, दूसरों के लिए गलत सोचते ही पकड़ लेगा

0
45

जयपुर। प्राचीन काल से ही एक किस्सा चला आ रहा है कि लोगों के बारे में गलत सोचने से पहले सौ बार सोचना चाहिए। क्योंकि इससे जुड़ा एक और किस्सा होता है, कि सोच समझकर बोलना चाहिए, क्योंकि दीवारों के भी कान होते हैं। वैदों पुराणाों में कहा गया है कि प्राचीन काल में ऋषि—मुनियों में ऐसी शक्ति होती थी,जिससे वो लोगों के मन में चल रही बात को सुन लेते थे।

कहा जाता है कि ऐसी शक्तियां उनकों कई सालों तपस्या के बाद मिली थी। धीरे—धीरे ये शक्तियां लुप्त हो गई। लेकिन हाल ही में एक सूचना मिली है कि वैज्ञानिकों ने एक ऐसा डिवाइस तैयार किया है, जिससे लोगों के मन में चल रहे विचारों के बारे में पता लगाया जा सकता है।

इस डिवाइस की मदद से आप अपने से सामने वालें के दिमाग को पढ़ सकते है। इससे आपकों पता चल जायेगा कि आपके साथ वाला आपके बारें में क्या सोच रहा है। अब आपको यह बात एकदम बकवास लग रही होगी। लेकिन ये बात एकदम सत्य है वैज्ञानिकों ने इस डिवाइस को कड़ी मेहनत के साथ तैयार किया है।

दरअसल इस डिवाइस का पूरा कार्य कम्प्यूटर पर आधारित होता है। पहले तो ये डिवाइस किसी भी शख्स के दिमाग में हो रही हलचल को एनालाइज करता है, फिर उसके बाद इनकों शब्दों में बदल देता है।

वैज्ञानिक बताते है कि इस डिवाइस में इलेक्ट्रोड लगे होते हैं, जो कुछ सोचने के बाद दिमाग में पैदा होने वाला तरंगों को आसानी से पकड लेते हैं। फिर इसके बाद डिवाइस से पता चल जाता है कि सामने वाले के दिमाग में क्या खिचड़ी पक रही है। इन शब्दों को ये डिवाइस कम्प्यूटर पर उतार देता है। इस डिवाइस का अभी टेस्ट चल रहा है, अगर ये सफल रहा तो इसका इस्तेमाल मुजरिमों को जुर्म कबुलवाने में काम में लिया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here