वैज्ञानिकों ने तैयारी की कोरोना की दवा, जल्द ही इंसानों पर किया जायेंगा दवा का परीक्षण

0

जयपुर।आज विश्व में कोरोना वायरस जनित महामारी का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है।विश्व में अब तक 53 लाख लोग कोरोना संक्रमित पाएं गए है।ऐसे में इस समय कोरोना वायरस के इलाज के लिए वैज्ञानिकों ने करीब एक दर्जन संभावित टीके मानव पर परीक्षण शुरू करने के लिए शुरुआती चरण में पहुंच गए है या शुरू होने वाले है।वैज्ञानिक दिन—रात कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने वाली दवा की खोज में लगे हुए है।

इसी बीच ब्रिटेन के वैज्ञानिक कोरोना वायरस को फैलने से रोकने वाली वैक्सीन के निर्माण का सफल परीक्षण का दावा करते हुए इसका परीक्षण अब इंसानो पर करने की जानकारी दी है।अगर वैज्ञानिकों का इस दवा का परीक्षण सफल हो जाता है तो इस करीब दस हजार से अधिक लोगों पर टीके के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

हालांकि पिछले माह ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस के प्रायोगिक टीके के प्रभाव और सुरक्षा की जांच करने के लिए करीब 1 हजार से अधिक लोगो पर इसका परीक्षण की कर चुका है।

जिसके बाद अब अगले चरण में वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस के इस दवा का परीक्षण पूरे ब्रिटेन में बच्चों और बुजुर्गों सहित करीब 10 हजार से अधिक लोगों पर करने की घोषणा की है।ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के द्वारा तैयार की गई इस कोरोना वैक्सीन में नुकसान नहीं पहुंचाने वाले चिम्पैंजी कोल्ड वायरस का इस्तेमाल किया गया है।

हालांकि अभी तक कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने वाली दवा नही बनी है ऐसे में सोशल डिस्टेंशिग और अपनी साफ सफाई का ध्यान रखते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव करना बेहद जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here