अमेरिका के वैज्ञानिकों ने बनाया जीवित रोबोट, वैज्ञानिको ने रोबोट का नाम एक्सनोबॉट रखा

0

जयपुर।वैज्ञानिको ने विज्ञान के क्षेत्र में प्रगति करते हुए आज मानव के लिए हर वह चीज आसन कर दी है जो कि कभी असंभव दिखाई देती थी।इस के चलते अब अमेरिका के वैज्ञानिकों ने इस बात का दावा किया कि उन्होने एक जिंदा रोबोट बनाया है जो कि पहली बार जीवित रोबॉट बनाया जा सका है।वैज्ञानिको ने इस रोबॉट को जिंदा होने के श्रेणी में रखते हुए इसको एक्सनोबॉट नाम दिया है।विज्ञान के क्षेत्र में इस सफल आविष्कार को करने अमेरिका के वैज्ञानिको के एक ग्रुप ने

मेंढक भ्रूण की जीवित कोशिकाओं को अन्य नए जीवन-रूपों के तौर पर इस्तेमाल करने में सफलता हासिल करते हुए इस जिंदा रोबोट को बनाया है।वैज्ञानिक इस रोबॉट को ‘जीवित प्रोग्राम करने लायक जीव’ मानते हुए विज्ञान के कई क्षेत्रों में इसका इस्तेमालन करने की संभावनाओं को व्यक्त कर रहे है।

अमेरिकी वैज्ञानिको के इस नए शोध के बारे में प्रॉसिडिंग्स ऑफ द नैशनल अकैडमी ऑफ साइंसेज नामक एक पत्रिका में प्रकाशित लेख बताया गया है।इसमें शोधकर्ताओ ने अपना सफल प्रयोग मानते हुए इस नए बनाए रोबॉट को ‘एक्सनोबॉट्स’ का नाम भी दिया जो कि मानव और वैज्ञानिको के लिए उपयोगी साबित होने वाला है।

वैज्ञानिको ने बताया कि इस जिंदा रोबोट का इस्तेमाल मेडिकल साइंस के क्षेत्र में किया जा सकता है और इस रोबॉट के जरिए रोगी के शरीर के अंदर दवा ले जाने या इस तरह के अन्य किसी काम के प्रयोग के तौर पर इसका उपयोग करने में

भी मदद भी मिल सकती है।वैज्ञानिको ने इसे पारंपरिक रोबॉट की श्रेणी में नही रखते हुए,इसे एक जीवित प्रोग्राम करने योग्य जीव या मशीन माना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here