स्कूल में लड़कियों को ‘खास रंग’ के इनरवियर पहनने का फरमान जारी होने के बाद हुआ विवाद

0
255

जयपुर। देशभर में जहां महिलाओं के साथ हो रही हिंसाओं को रोकने के लिए समाज से लेकर सरकार तक कई तरह के इंतज़ाम कर रहे हैं। वहीं कई ऐसे लोग आज भी मिल जा रहे हैं, जो कि महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार को लेकर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से महिलाओं को ही ज़िम्मेदार ठहराते हुए दिखाई दे रहे हैं।

पुणे के एमआईटी स्कूल के छात्राओं को स्कूल प्रशासन ने एक खास तरह के रंग का इनरवियर पहनने का आदेश दे दिया था। यही नहीं स्कूल ने छात्राओं के वाशरूम जाने की टाइमिंग से लेकर उनकी स्कर्ट की लंबाई भी फिक्स कर दी है।

स्कूल के इस फरमान के बाद छात्राओं और उनके अभिभावकों ने स्कूल के प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिए हैं। स्कूल के बनाए गए इस नियम के विरोध में एक अभिभावक ने कहा..

लड़कियों को सफेद अथवा स्किन कलर के इनर वियर पहनने के लिए कहा गया है, यहां तक कि उन्होंने स्कर्ट की लंबाई भी तय कर दी है। ये सब बातें बच्चों की स्कूल डायरी में दर्ज हैं जिनपर उनसे साइन करावाया गया है।

इसके साथ ही स्कूल ने निर्देश दिया है कि अगर छात्राओं और उनके अभिभावकों ने ये बात नहीं मानी तो उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। छात्राओं और उनके अभिवावकों के विरोध प्रदर्शनों के बाद एमआईटी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट की कार्यकारी निदेशक डॉ सुचित्रा करद नागारे ने बताया कि ये आदेश एक नेक इरादे के साथ दिए गए हैं। इसको लेकर किसी को विरोध करने की ज़रुरत नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here