श्रावण मास: हर सोमवार बनेगा विशेष योग, जानिए किस दिन की पूजा से मिलेगा कौन सा फल

0
55

आपको बता दें, कि सावन का महीना बहुत ही खास और विशेष माना जाता हैं, वही इस साल सावन के महीने में चार सोमवार पड़ रहे हैं जो बहुत ही अद्भुत संयोग हैं सावन में दो सोमवार कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष में पंचमी तिथि को रहेगा। वही इनमें से दो सोमवार के साथ प्रदोष व्रत का भी संयोग बनेगा। कृष्ण पक्ष में और शुक्ल पक्ष में पंचमी तिथि में सोमवार होने से भगवान शिव की पूजा अर्चना बेलपत्र और दूध से अभिषेक करने से किसी भी तरह का दोष्ज्ञ समाप्त होता हैं वही रोगों से छुटकारा मिलता हैं, पितृदोष से मुक्ति मिलती हैं और रोजगार से सम्बंधित बाधाओं में समाधान मिलता हैं।

वही सोम प्रदोष में भगवान शिव का अभिषेक रुद्राभिषेक और उनका श्रृंगार करने का बहुत ही महत्व होता हैं सोम प्रदोष वाले दिन महादेव की पूजा अर्चना से मनोवांछित फल की भी प्राप्ति होती हैं वही लड़का या फिर लड़की की शादी विवाह की अड़चनें दूर होती हैं संतान की इच्छा रखने वाले लोगों को इस दिन पंचगव्य से महादेव का अभिषेक करना चाहिए। वही जिन्हें लक्ष्मी प्राप्ति और कारोबार में सफलता की कामना हो, उन्हें दूध से अभिषेक करने के बाद शिवलिंग पर पुष्प की माला अर्पित करनी चाहिए। इस पूजन से उन्हें सभी कार्य में सफलता प्राप्त होती हैं। वही इस सावन में चारो सोमवार अति विशेष और लाभकारी हैं वही सोमवार का व्रत करते हुए महादेव की पूजा आराधना करने से कल्याणकारी होगा। सावन का पहला सोमवार 22 जुलाई यानी की आज हैं वही इस दिन रुद्राभिषेक करने से संतान सुख में बाधा नहीं आती हैं वही कुंडली में पितृदोष या कालसर्प योग हैं, उन्हें इस पूजन से शांति मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here