राजस्थानः पाठ्यक्रम में बदलाव, सावरकर को वीर की जगह अंग्रेज़ों से माफ़ी मांगने वाला बताया

0
860

जयपुर। राजस्थान सरकार ने शिक्षा विभाग के स्कूली पाठ्यक्रम में एक बड़ा बदलाव किया है बताया जा रहा है कि स्कूली पाठ्यक्रम में वीर सावरकर की जीवनी वाले हिस्से में बदलाव करने का ऐलान कर आ गया है 3 साल पहले राज्य की भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने विनायक दामोदर सावरकर को वीर महान देशभक्त और महान क्रांतिकारी बताया था लेकिन अब कांग्रेस शासन में नए सिरे से तैयार की गई स्कूली पाठ्यक्रम में उन्हें की जगह जेल की यात्राओं से परेशान होकर ब्रिटिश सरकार से दया मांगने वाला बताया गया है इसके साथ साथ कुछ अन्य तत्वों को भी जोड़ा गया है.

मीडिया में आई खबरों के अनुसार बताया जा रहा है कि इस मामले को लेकर सरकार का कहना है कि वे छात्र को सही तरीके से इतिहास से रूबरू कराने के लिए पाठ्यक्रम में बदलाव कर रही है. हर सरकार द्वारा अपने हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव की यह नीति पुरानी रही है ,लेकिन इन नीति को बदलने की जरूरत है पाठ्यक्रम में बदलाव होने की जरूरत है. लेकिन किसी राजनीतिक दल की सोच के अनुसार नहीं बल्कि बच्चों की और भविष्य की जरूरत के अनुसार.

वहीं आपको बता दें कि इस पूरे मामले को लेकर राजस्थान के शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह दो सारा का कहना है कि पाठ्यक्रम की समीक्षा के लिए एक समिति का गठन कर आ गया है और उसी के प्रस्तावों के अनुसार पाठ्यक्रम को तैयार किया गया है और इसमें किसी भी प्रकार का कोई राजनीति नहीं की गई है और फिर भी अगर पाठ्यक्रम को लेकर कोई मामला सामने आएगा तो उस पर भी अमल कर आ जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here