शनि और मंगल के इस योग को कारण दो माह तक परेशानी में रहेंगे इस राशि के जातक

0
257

शनि और मंगल के इस योग को कारण दो माह तक परेशानी में रहेंगे इस राशि के जातकशनि और मंगल ग्रह 7 मार्च को एक राशि में आ रहे है। शनि और मंगल का यह योग 2 मई 2018 तक बना रहेगा। मंगल और शनि के एक राशि में आने से इसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा।

मेष राशि– मेष राशि का स्वामी मंगल है, जिस कारण इस  राशि के जातकों के लिए शनि-मंगल की युति नवें स्थान पर होगी। इस युति के कारण इस राशि के जातक अचानक कोई दुर्घटना के शिकार  हो सकते है। पुत्र का पिता में विवाद, स्वास्थ्य को लेकर परेशान, इस दौरान फिजूल खर्चों भी होंगे।

वृष राशि–  वृष राशि के लिए शनि और मंगल की युति अष्टम भाव में होने से इस राशि के जातक किसी साजिश का शिकार हो सकते हैं। परिवार में संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है।

मिथुन राशि–  मिथुन राशि के लिए यह युति सप्तम स्थान पर है। जिसके करण इस राशि वालें को आय के नये स्रोत्र बनेगे। व्यापारी और नौकरीपेशा लोगो के लिए मंगल और शनि की इस युति के कारण अच्छे मौके मिलेंगे। पति-पत्नी के रिश्तें में मजबूती आएंगी।

कर्क राशि–  इस राशि के लिए शनि-मंगल का एक साथ आना अशुभ फल कारक है। इस कारण इस राशि के जातक को सावधान रहने की आवश्यकता है। यह युति विनाश और दुश्मनी को बढ़ाने के साथ साथ नुकसान कराएंगा। प्रत्येक काम को करने के लिए भागदौड़ करनी पड़ सकती है, स्वास्थ्य को लेकर सावधानी बर्ते।

सिंह राशि– सिंह राशि के लिए शनि और मंगल का गोचर पांचवें स्थान में हो रहा है। जिसके कारण विघार्थियों को परीक्षा में परेशानी आएंगी, पढ़ाई में मन नहीं लगेगा। इसके साथ आर्थिक नुकसान होगा।

कन्या राशि– कन्या राशि के लिए शनि और मंगल का स्थान चतुर्थ भाव में रहेगा। जिस कारण इन्हें  आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ेगा। इस दौरान स्वास्थ्य को लेकर भी परेशान रहेंगे।

तुला राशि–  तुला राशि के लिये शनि-मंगल का योग  मिलाजुला असर ड़ालेगा। इनकों अचानक धन लाभ के साथ साथ लड़ाई-झगड़े में भी फंस सकते है।आने वाले दो महीनो तक मानसिक तनाव में रहेंगे।

वृश्चिक राशि– वृश्चिक राशि पर शनि-मंगल दूसरे भाव में प्रवेश करेगा। जिस कारण इन्हें किसी प्रापर्टी में लाभ मिलेगा। लेकिन इस दौरान प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचेगा।

धनु राशि–  शनि और मंगल के योग से इससे इस राशि पर कई तरह की मुसीबतें आएगी। जिसके कारण इन्हें आर्थिक परेशानी के साथ मान-सम्मान मे कमी आएगी। व्यापारी और नौकरी पेशा लोगों को हानि का सामना करना पड़ सकता है।

मकर राशि– इस राशि के जातको के लिए मंगल और शनि की युति दसवें भाव में हो रहा है। जिसके कारण तनाव बढ़ सकता है। सामान की चोरी होने की संभावना है। संपत्ति को लेकर वाद विवाद होगा।

कुंभ राशि– कुंभ राशि के जातको के लिए शनि-मंगल का गोचर एकादश भाव में होने से शुभ फल दायक रहेगा। इस कारण से अचानक इस राशि के जातको को मुनाफा मिल सकता है। संपत्ति में लाभ मिलेगा। मान-सम्मान में वृद्धि के साथ परिवार में प्यार बढ़ेगा।

मीन राशि–  इस राशि वालों का शनि और मंगल का युति दशम भाव में हो रहा है। जिसके कारण इन्हें सावधान रहने की आवश्यकता है। अचानक परेशानियों का सामना करना पड सकता है। कोई दुर्घटना घटित हो सकती है मानसिक तनाव रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here