‘Bigg Boss 14’ के लॉन्च पर सलमान बोले, जिंदगी के 30 साल में सबसे लंबा ब्रेक था

0

बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने पिछले 30 वर्षों में काम से इतना लंबा ब्रेक नहीं लिया है, जितना कि उन्हें कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान लेना पड़ा। एक निजी चैनल के शो बिग बॉस को लेकर आयोजित ऑनलाइन प्रेसवार्ता में खान ने यह टिप्पणी की। सलमान तीन अक्टूबर से बिग बॉस के आगामी सीजन को होस्ट करने वाले हैं।

उन्होंने कहा, “पिछले छह महीने में काम नहीं करना मेरे लिए सबसे अधिक तनावपूर्ण रहा है। मैंने पिछले 30 वर्षों में भी इतनी छुट्टियां नहीं मनाई। हालांकि, मुझे जबरन यह छुट्टियां लेनी पड़ीं।”

बॉलीवुड सुपस्टार ने कहा कि इससे पहले उन्होंने साल के अंत में छुट्टी मनाने का निर्णय लिया था, लेकिन अब बिग बॉस कार्यक्रम को लेकर उनकी प्रतिबद्धता के चलते उन्हें इन तय छुट्टियों में कटौती करनी पड़ेगी। लॉकडाउन की घोषणा होने पर सलमान खान अपने परिवार के साथ पनवेल स्थित फार्म हाउस चले गए थे। इस पर खान ने कहा कि माता-पिता की सेहत के मद्देनजर उन्होंने यह निर्णय लिया था जो उनके साथ बांद्रा के अपार्टमेंट में रहते हैं।

खान ने राष्ट्रव्यापी बंद के दौरान अपने फॉर्महाउस पर बिताए दिन और सब्जियां उगाने के समय को भी बेहतर बताया।

सलमान खान ने खुलासा किया कि उन्होंने ‘बिग बॉस’ के नए सीजन के लिए कम पैसे लिए हैं, ताकि उनके पारिश्रमिक की वजह से कोविड-19 संकट के दौरान चैनल पर कोई दबाव न पड़े।

दरअसल, इस साल सलमान इस शो की मेजबानी के लिए कम मेहनताना ले रहे हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हर क्रू मेंबर को उनका उचित भुगतान मिले।

‘बिग बॉस 14’ कलर्स चैनल पर प्रीमियर के लिए तैयार है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleIPL 2020: MI ने KKR को हराया, दिनेश कार्तिक ने माना ‘हम बहुत रूखे थे’
Next articleLokesh Rahul ने शतक लगा आईपीएल में कई रिकार्ड किए अपने नाम
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here