बीजेपी के मेनिफेस्टो पर मचा बवाल, विपक्ष और सोशल मीडिया सब ने किया सवाल

0

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने अपना मेनिफेस्टो जारी कर दिया है और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भाजपा का विजन डाक्‍यूमेंट पांच सूत्र, एक लक्ष्‍य, 11 संकल्‍प का वादा जारी किया। भाजपा ने अपने विजन डाक्‍यूमेंट में यूं तो 11 संकल्प किए हैं। भाजपा द्वारा जारी किए गए 11 संकल्पों में से पहला संकल्प में कहा गया है कि भाजपा ने पहले संकल्प में कहा है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बिहार की एनडीए सरकार ने देश के सामने मिसाल रखी है। हमारा संकल्प है कि जैसे ही कोरोना का टीका आईसीएमआर द्वारा स्वीकृत होने के बाद उपलब्ध होगा, हर बिहारवासी का निशुल्क टीकाकरण करेंगे।
भाजपा द्वारा अपने मेनिफेस्टो में यह घोषणा करते ही बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव और कांग्रेस दोनों ही भाजपा से सवाल पूछने लगी, इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर इस वक्त इस मुद्दे को लेकर काफी हलचल मची हुई है।
तेजस्वी यादव ने भाजपा पर तीखा वार करते हुए कहा कि भाजपा के बिहार में कोई चेहरा नहीं है, जिसके वजह से मेनिफेस्टो के लिए वित्त मंत्री को खुद आना पड़ा। सीतारमण जी को पहले बताना चाहिए कि उन्होंने बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दिया।
तेजस्वी यादव की पार्टी आरजेडी ने ट्वीट करते हुए कहा कि – कोरोना का टीका देश का है, भाजपा का नहीं! टीका का राजनीतिक इस्तेमाल दिखाता है कि इनके पास बीमारी और मौत का भय बेचने के अलावा कोई विकल्प नहीं है! बिहारी स्वाभिमानी हैं, चंद पैसों में अपने बच्चों का भविष्य नहीं बेचते!

दूसरी तरफ कांग्रेस ने सवाल उठाया की क्या एफएम सुझाव दे रही हैं कि अन्य राज्यों के नागरिकों को वैक्सीन के लिए भुगतान करना होगा? क्या भाजपा सरकार भारतीय नागरिकों को अपनी जान बचाने के लिए भुगतान करने जा रही है? क्या भाजपा सरकार में भारतीय नागरिक अपनी जान बचाने के लिए भुगतान करेंगे?
पोलियो से लेकर चेचक तक हर बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम हमारे नागरिकों के लिए फ्री रहा है, क्या बीजेपी इसका उल्टा करना चाहती है?

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया है कि क्या बीजेपी पार्टी के खजाने से इन टीकों का भुगतान करेगी? अगर यह सरकारी खजाने से आ रहा है तो बिहार को मुफ्त टीके कैसे मिल सकते हैं, जबकि देश के बाकी हिस्सों में भुगतान करना पड़ेगा? यह लोकलुभावन वादा गलत है, क्योंकि कोरोना के समय यह भेदभाव करता है।

उधर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने ट्वीट किया-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here