शिकागो में बोले आरएसएस प्रमुख, कहा “हिंदु” एकजुट होकर करे मानव कल्याण के लिए काम

0
45

जयपुर, स्वामी विवेकानंद के एतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ को मौके पर आयोजित विश्व हिंदु सम्मेलन में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हिंदु समुदाय से एकजुट होनें का आह्वान किया। इस अवसर पर उन्होंन कहा कि हिंदु समुदाय के लोग हजारों से प्रताडित है अब एकजुट होकर मानव कल्याण के लिए काम करे।

विश्व हिंदू सम्मेलन में करीब 2,500 लोगों को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा कि हिन्दू समाज में प्रतिभावान लोगों की संख्या सबसे ज्यादा है, लेकिन समुदाय मे एकता की कमीं है सभी को एक साथ आना ही अपने आप में चुनौती है। न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार भागवत ने अपने संबोधन के दौरान यह भी कहा कि हिंदु समुदाय हजारों वर्षों से प्रताड़ित हो रहे हैं, क्योंकि वह अपन कृत्व्यों का पालन करना भूल गए है।

इसलिए अब हमें एकसाथ आना ही होगा। बता दें कि 11 सितंबर 1893 को स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में आयोजित विश्व धर्म संसद में ऐतिहासिक भाषण दिया था। उसी एतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर शिकागो में विश्व हिंदू सम्मेलन का आयोजन किया गया है। बता दें कि यह सम्मेलन दो दिन तक चलेगा। जो 7-9 सितंबर के बीच रखा गया है।

जानकारी के लिए बता दें कि इस हिंदु सम्मेलन में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू भी शिरकत करेंगे। अपने भाषण के दौरान आरएसएस प्रमुख ने कहा कि हमारे नैतिक मूल्य ही सार्वजनिक मूल्य बन गए है। जिन्हें हम हिंदु मूल्य कहते है। उन्होंने कहा कि जीवन में पैसा ही सबकुछ नहीं होता है। हम लोगों को एकसाथ रहकर काम करना होगा। जिससे पूरा समुदाय आगे आ सके।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here