शोधकर्ताओं ने बनाई नई कोरोना जांच किट, कोरोना और मौसमी बीमारियों में फर्क करना आसान

0

जयपुर।विश्व में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 2 करोड़ पहुंचने वाला है। विश्व में बढ़ते कोरोना संक्रमण को कम करने के लिए वैज्ञानिक वैक्सीन बनाने की खोज में लगे हुए है।इसी बीच ब्रिटेन के शोधकर्ताओं ने एक ऐसी जांच किट बनाई है, जो 90 मिनट में कोरोना की पुष्टि करने में सक्षम है।शोधकर्ताओं ने बताया है कि इससे स्वैब और डीएनए टेस्ट किया जाएगा, जिससे कोरोना वायरस और दूसरे मौसमी बीमारियों में फर्क करने में मदद मिलेंगी।

ब्रिटेन के वैज्ञानिक अगले सप्ताह कोरोना वायरस और फ्लू के लिए एक नए तरह का टेस्ट शुरू करने वाले है।जिसका इस्तेमाल पहले केयर होम और लैब में किया जायेंगा।इस समय कोरोना जांच की रिपोर्ट आने में 24 घंटों को समय लगता और पूर्ण जांच में 2 दिन से भी ज्यादा का समय लगता है।

लेकिन ब्रिटेन के वैज्ञानिकों की इस नई जांच किट से 90 मिनट में कोरोना संक्रमण का पता लगाया जा सकता है। इस नए रैपिड स्वैब जांच किट को लैमपोर नाम दिया गया है और इससे अब अगले सप्ताह से केयर होम और लैब में लगभग 5 लाख लोगों की जांच की जाने वाली है।

इसके अलावा अगले माह ब्रिटेन के सभी सरकारी अस्पतालों में यह जांच मशीन लगाई जाएंगी, जिनसे कोरोना का पता लगाना आसान होगा।इस समय कोरोना वायरस की जांच सामान्य लोगों के लिए सड़कों पर वॉक-इन किया जाता है और अस्पतालों में मरीजों और स्वास्थ्यकर्मियों की जांच की जाती है।

ऐसे में अब कोरोना की इस नई जांच मशीन वायरल संक्रमण और कोरोना संक्रमण का पता लगाना आसान होगा और इससे कई लोगो की जान बचाई जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here