शोध: दिनचर्या में उचित बदलाव नियंत्रित कर सकते हैं कैंसर की आशंकाएं

0
109

कैंसर की समस्या को लेकर विश्वभर में कई तरह के शोध औऱ अध्ययन किए जा चुके हैं हर शोध कैंसर से लडने के लिए कोई ना कोई उपाय या साबधानियां बरतने की सलाह देता हैं। उसी प्रकार हाल ही में हुई एक रिसर्च से यह पता लगा है कि कैंसर से हाने वाली मौतों का लगभग 40 प्रतिशत अपनी लाइफस्टाइल में आसान और उचित बदलावों के कारण रोका जा सकता है।

जानकारी के लिए बता दें कि इस बीमारी को न्यौता देने वाले बड़े कारणों में तंबाकू का धुआं, खराब डाइट, शराब, ज्यादा वजन या मोटापा, इंएक्टिविटी, पराबैंगनी (यूवी) किरणें, इंफेक्शन और हार्मोन संबंधी कारण आदि सभी शामिल हैं। शोध में बताया गया है कि हमेसा कैंसर होने का कारण जेनेटिक से संबंधित नहीं होता है, आम तौर पर खराब आदतों को पाल लेने से भी आप इस घातक बीमारी के शिकार हो सकते हैं। इन बुरी आदतों में धूम्रपान और तंबाकू का शुमार होना आम बात है जो कैंसर को ज्यादा जल्दी बढावा देते हैं।

सर्वेक्षण के मुताबिक, हर वर्ष करीब 12 लाख लोगों की मौत सिर्फ तंबाकू चबाने के कारण ही हो जाती है, लेकिन तंबाकू के सेवन को नियंत्रित करके आप कम से कम फेफड़े, मुंह और 13 दूसरे तरह के कैंसर को होने से रोक सकते हैं। इसमें यह भी बताया गया है कि शराब के अधिकाधिक सेवन से मुंह, फेरिंक्स, लेरिंक्स, ईसोफेगस, आंत, लिवर और स्तन कैंसर का खतरा बढ सकता है।

इस मामले में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल का मानना है कि, “कैंसर कई बीमारियों का एक ग्रुप है। हालांकि कैंसर शरीर के सभी जिंदा सेल में हो सकता है। कई तरह के कैंसर के कई तरह की हिस्ट्री है। हालांकि, कुछ दुर्लभ कैंसर जेनेटिक भी हो सकते हैं, लेकिन सबसे ज्यादा बीमारी पर्यावरण और खराब लाइफस्टाइल के कारण होती है।

डॉ.अग्रवाल के मुताबिक, “हम सभी जानते हैं कि अगर शुरूआत में ही कैंसर के लक्षणों को पहचान लिया जाए तो बीमारी ठीक होनी की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। अगर लोग इसकी स्क्रीनिंग के लिए रिपोर्ट करते हैं तो इलाज में आसानी होती है। लेकिन दुर्भाग्य से, लगभग दो-तिहाई कैंसर मामलों में लास्ट स्टेज में ही इलाज हो पाता है, ऐसी हालत में मरीजों को बचाना मुश्किल हो जाता है। इसलिए कैंसर को खत्म करने के लिए रोकथाम और जागरूकता होनी जरूरी है।”

जाहिर है कि आम जीवन में भी कैंसर के खतरे को नियंत्रत करने के लिए कई उपाए हैं अगर आप चाहें तो अपनी जीवन शैली के बदलकर कैंसर की संभावलन को कम कर सकते हैं।

  • जितना हो सके शरीर के वजन को कम रखने की कोशिश करें क्योंकि बढता वजन कैंसर का सीधा संकेत होता है।
  • प्रतिदिन लगभग 30 मिनट तो एक्सरसाइज के लिए जरूर निकालें, क्योंकि इससे आपके शरीर में फुर्ती आएगी और कई तरह की बीमारियों से आप बचे रहेंगे।
  • मीठी चीजों के सेवन पर एतिहाद बरतें और अगर हो सके तो इससे परहेज ही करें। साथ ही हाई कैलोरी युक्त खाने पर नियंत्रण बनाएं।
  • फास्ट-फूड और भारी व्यंजनों को इग्नोर करें, जितना हो सके सब्जियां, फल, साबुत अनाज और फलियों को ही नियमित आहार के रूप में सेवन करें।
  • शराब, तम्बाकू, गुटका, पान-मसाला, सिगरेट और बीडी इत्यादि के सेवन पर बिल्कुल रोक लगा लें।
  • नमक का सेवन में कमी करें और सोडियम युक्त चीजों का सेवन भी नियंत्रित कर लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here