लगातार छठी बार हो सकती है रेपो रेट में कटौती, आरबीआई एमपीसी की बैठक कल से

0

जयपुर। भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा दुबे मासिक मौद्रिक नीति समिति की बैठक कल से शुरू होने वाली है। और इस तीन दिवसीय बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी 5 दिसंबर को जारी कर दी जाएगी। बैंकर्स और जानकारों का यह मानना है कि आज भी इस बैठक में भी रेपो रेट में कटौती करने का ऐलान कर सकता है।

बीते कुछ समय से देश भर में आर्थिक मंदी का माहौल बना हुआ है और इसी से उबरने के लिए केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति की समिति के द्वारा इस साल फरवरी से अक्टूबर तक के महीने में अपनी लगातार पांच बैठकों में रेपो दर में 5 बार कटौती करने का काम कर चुकी है। पांच बार में रेपो दर के कुल 1.35 फीसद को घटाया गया है।

वही आपको बता दें कि इसके बावजूद अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत नहीं दिख रहे हैं। इन सबके बीच चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के सकल घरेलू उत्पाद और अन्य आर्थिक आंकड़ों में लगातार गिरावट नजर आई है। और ऐसे में आरबीआई के द्वारा एक बार फिर से रेपो दर को घटाने का दबाव होगा। रेपो दर वह दर है जिस पर रिजर्व बैंक के द्वारा वाणिज्य बैंकों को ऋण देता है।

सरकार की ओर से पिछले सप्ताह जारी करे गए आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष की तीसरी तंबर को समाप्त हुई दूसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर को घटाकर 4.5 फीसद रह गई है जो 6 वर्ष का निचला स्तर है। पहली तिमाही में यह पांच फीसद पर रही थी फॉरेस्ट ऑफ रिजर्व बैंक के द्वारा अक्टूबर में जारी करी गई मौद्रिक नीति बयान में अनुमान जताया गया था कि दूसरी तिमाही में विकास दर 5.3% रहेगी जबकि अगले 6 महीने में इसको 6.6 से 7 शब्दों के बीच में रहने का अनुमान व्यक्त किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here