असल प्रेम, चिंता, पुरस्कार माता-पिता की परवरिश में है : सोहा अली खान

0
74

अभिनेत्री सोहा अली खान का कहना है कि मां बनने के बाद उनके भीतर स्वयं की मां के प्रति सम्मान और भी बढ़ गया। सोहा का मानना है कि माता-पिता की परवरिश में ही असली चिंता, पुरस्कार और प्रेम है।

विक्स के ‘टच ऑफ केयर’ अभियान की खास स्क्रीनिंग पर मीडिया के साथ बातचीत में सोहा ने अपने यह विचार साझा किए। उनके साथ इस मौके पर क्रिकेट खिलाड़ी गौतम गंभीर और श्रेया सरन भी मौजूद रहे।

सोहा ने कहा, “मैं हमेशा मां बनने के एहसास के बारे में सोचती थी। जब आप मां बनती हैं, तो आपके अंदर स्वयं की मां के प्रति सम्मान और बढ़ जाता है। पिछले सप्ताह पहली बार मैंने अपनी बेटी को अपने पति कुणाल खेमू के साथ छोड़ा था और दिन के अंत में उन्होंने मुझे फोन कर रहा कि वह मेरा बेहद सम्मान करते हैं, क्योंकि मैं हर दिन एक मां के रूप में परवरिश का काम करती हूं।”

इस दौरान सोहा ने इस बात का खुलासा भी किया कि वह अपने पति के साथ बच्चा गोद लेने के बारे में भी सोच रही थीं। हालांकि, अपनी एक मित्र के साथ बातचीत की।

सोहा ने कहा, “मेरी दोस्त ने कहा कि सवाल यह नहीं है कि आप मां बनने के लिए तैयार हैं कि नहीं। सवाल यह है कि क्या आप एक अभिभावक बनने के लिए तैयार हैं। असल प्रेम, चिंता, पुरस्कार माता-पिता की परवरिश में है।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here